Forgot password?    Sign UP
भारत का पहला अर्थक्वेक अर्ली वार्निग सिस्टम भूकंप से पूर्व चेतावनी देगा

भारत का पहला अर्थक्वेक अर्ली वार्निग सिस्टम भूकंप से पूर्व चेतावनी देगा





2016-07-20 : भूकंप आने से 30 सेकेंड पहले अर्थक्वेक अर्ली वार्निग सिस्टम भूकंप पूर्व चेतावनी देगा। भारत की पहली भूकंप पूर्व चेतावनी प्रणाली (अर्थक्वेक अर्ली वार्निग सिस्टम) हरियाणा लोक प्रशासन संस्थान (हिपा) में विकसित की गई। गुड़गांव में प्रदेश के वित्त, राजस्व एवं आपदा प्रबंधन मंत्री कैप्टन अभिमन्यु ने 18 जुलाई 2016 को इसका शुभारम्भ किया। भूकंप के दृष्टिगत गुड़गांव सहित हरियाणा के अनेकों जिले संवेदनशील एवं अतिसंवेदनशील क्षेत्र में आते हैं। इसे देखते हुए हिपा ने जर्मन कंपनी सेफ्टी इलेक्ट्रोनिक्स के सहयोग से भूकंप पूर्व चेतावनी प्रणाली विकसित की है।

अर्थक्वेक अर्ली वार्निग सिस्टम के बारे में :-

# जब भूकंप आता है तो प्राथमिक, द्वितीय और तृतीय तरंगें निकलती हैं।

# यह प्रणाली प्राथमिक तरंग के निकलते ही यानी 30 सेकंड पहले ही सतर्क कर देगी।

# छह से अधिक तीव्रता होने पर डिवाइस से जुड़ी सभी सेवाएं (बिजली कनेक्शन, गैस कनेक्शन एवं लिफ्ट) बंद हो जाएंगी।

# इमारत की छत पर हूटर लगाने के बाद जहाँ सिस्टम मौजूद है वहाँ से अलार्म की आवाज पांच किलोमीटर के दायरे में सुनाई देगी।

# यह ‘ऑनसाइट अर्ली अर्थक्वेक वार्निंग सिस्टम’ भूकंप आने से 30 सेकेंड पहले ही रिएक्टर पैमाने पर पांच या इससे अधिक तीव्रता वाले भूकंप के बारे में चेतावनी दे सकता है।

# मिलेनियम सिटी’ गुड़गांव में अंतरराष्ट्रीय मानकों के अनुसार सुरक्षा के प्रबंधन हेतु इसे यहाँ स्थापित किया गया है।

# मास्टर डिवाइस मुख्य बिल्डिंग में जबकि सब मास्टर डिवाइस हास्टल में लगाया गया है।

Provide Comments :





Related Posts :