Forgot password?    Sign UP
गुजरात और आंध्र प्रदेश शहरी क्षेत्रों में खुले में शौच से मुक्त होने वाले पहले राज्य बने

गुजरात और आंध्र प्रदेश शहरी क्षेत्रों में खुले में शौच से मुक्त होने वाले पहले राज्य बने





2016-10-03 : हाल ही में, महात्मा गांधी की 147वीं जयंती और स्वच्छ भारत मिशन की दूसरी वर्षगांठ के अवसर पर 2 अक्टूबर 2016 को गुजरात और आंध्र प्रदेश द्वारा अपने-अपने शहरों और नगरों को खुले में शौच से मुक्त घोषित करने वाले पहले राज्य घोषित किये गये। महात्मा गांधी के पैतृक जिले पोरबंदर और गुजरात के सभी 180 नगर औऱ शहर पोरबंदर में आयोजित एक विशेष कार्यक्रम में केंद्रीय पेयजल और स्वच्छता मंत्री नरेन्द्र सिंह तोमर और गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रूपाणी की मौजूदगी में खुले में शौच से मुक्त घोषित किए गए।

आंध्र प्रदेश में तिरुपति में आयोजित एक समारोह में मुख्य मंत्री एन।चंद्रबाबू नायडू ने प्रदेश के सभी 110 शहरों को खुले में शौच से मुक्त घोषित किया। पाठकों को बता दे की देश के 82 हजार शहरी वार्डों में से 20 हजार वार्डों के साथ अब तक 405 शहर खुले में शौच से मुक्त घोषित किए जा चुके हैं। अन्य 334 शहर अगले वर्ष मार्च तक खुले में शौच से मुक्त घोषित किये जायेंगे। इस अवसर पर नई दिल्ली नगर निगम द्वारा आयोजित स्वच्छ जागरूकता रैली को झंडी दिखाकर रवाना किया गया तथा एक समारोह में गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने लोगों को स्वच्छता की शपथ दिलाई।

Provide Comments :





Related Posts :