Forgot password?    Sign UP
यू आर राव बने आईएएफ हॉल ऑफ़ फेम में शामिल होने वाले पहले भारतीय

यू आर राव बने आईएएफ हॉल ऑफ़ फेम में शामिल होने वाले पहले भारतीय





2016-10-05 : भारतीय अनुसंधान संगठन (इसरो) के पूर्व प्रमुख यूआर राव अंतरराष्ट्रीय वैमानिकी संघ (आईएएफ) के हॉल ऑफ़ फेम में शामिल होने वाले पहले भारतीय बने। वे भारतीय अनुसंधान संगठन के पूर्व निदेशक थे। राव वर्तमान में भौतिक अनुसंधान प्रयोगशाला, अहमदाबाद की गवर्निंग काउंसिल के निदेशक हैं। वे भारतीय अंतरिक्ष विज्ञान और प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईएसटी), तिरुवनंतपुरम के कुलपति भी हैं। उन्हें भारत सरकार द्वारा 1976 में पदम् भूषण द्वारा सम्मानित किया गया। यू आर राव को 19 मार्च 2013 को सेटेलाईट हॉल ऑफ़ फेम, वाशिंगटन में शामिल किया गया। वे यह सम्मान प्राप्त करने वाले पहले भारतीय हैं।

अंतरराष्ट्रीय वैमानिकी संघ (आईएएफ) के बारे में :-

# अंतरराष्ट्रीय वैमानिकी संघ अन्तरिक्ष संबंधित वैश्विक मुद्दों पर अपनी राय व्यक्त करने वाला पेरिस आधारित संगठन है।

# इसकी स्थापना वर्ष 1951 में गैर-सरकारी संगठन के रूप में हुई थी।

# विश्वभर में 66 देशों में इसके 300 से अधिक सदस्य हैं।

# यह इंटरनेशनल एकेडमी ऑफ़ एस्ट्रोनॉटिक्स (आईएए) तथा इंटरनेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ़ स्पेस लॉ (आईआईएसएल) के बीच कड़ी का काम भी करता है।

# यह वार्षिक अंतरराष्ट्रीय एस्ट्रोनॉटिकल कांग्रेस का भी आयोजन करता है।

# आईएएफ हॉल ऑफ़ फेम में सम्मानित व्यक्तियों को प्रदर्शित किया जाता है। इसके अतिरिक्त एक प्रशस्ति पत्र, जीवन संबंधी जानकारी तथा आईएएफ की वेबसाइट पर फोटो लगाई जाती है।

Provide Comments :




Related Posts :