Forgot password?    Sign UP
भारत में काले धन की अब तक की सबसे बड़ी राशी की घोषणा हुई

भारत में काले धन की अब तक की सबसे बड़ी राशी की घोषणा हुई





2016-10-05 : केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा हाल ही में इनकम डिक्लेरेशन स्कीम के तहत 65,250 करोड़ के काले धन की घोषणा की गई। 64, 275 लोगों ने इसे घोषित किया था। पाठकों को बता दे की देश में काले धन की अब तक की यह सबसे बड़ी घोषणा है। वित्त मंत्री द्वारा 56, 378 करोड़ रुपए की अघोषित आय का पता लगाया गया जो कब्जे में लेने की बात कही गई है। एचएसबीसी की लिस्ट से लगभग 8,000 करोड़ रुपयों का टैक्स मूल्यांकन पूरा हो गया है। वित्त मंत्री अरुण जेटली द्वारा सरकार के द्वारा कर चोरी रोकने के लिए उठाए गए प्रयासों की प्रसंशा की। केंद्र सरकार द्वारा दिए गए आंकडें अस्थायी है। इसमें संशोधन भी हो सकती है।

केंद्र सरकार पिछले काफी समय से काले धन को वापस लाने तथा देश में छिपे हुए काले धन को खोज निकालने का दबाव था। हालांकि लोकसभा चुनाव के समय नरेन्द्र मोदी द्वारा काले धन को लेकर वादा किया था। विपक्ष जिसके बाद से ही इसे मुद्दा बनाकर प्रधानमंत्री को घेरता रहा है। इनकम डिक्लेरेशन स्कीम क्या था?

कालेधन खुलासे को लेकर केंद्र सरकार ने 1 जून 2016 से लेकर 30 सितंबर 2016 तक के लिए एक स्कीम चलायी थी। इस स्कीम के अंतर्गत 45 फीसदी टैक्स और पेनल्टी देकर कोई शख्स काले धन को व्हाइट कर सकता है। केंद्र सरकार ने कालेधन की खुलासा करने वाले लोगों को कई सुविधा दी थी।

हालांकि घोषित ब्लैकमनी पर, पेनाल्टी, सरचार्ज टैक्स की 25 प्रतिशत राशि 30 नवंबर 2016 तक जमा करनी होगी। इसकी दूसरी किस्त 25 फीसदी राशि 31 मार्च 2017 तक जमा की जा सकेगी। तीसरी किस्त की राशि की अंतिम तिथि 30 सितंबर 2017 है।

Provide Comments :




Related Posts :