Forgot password?    Sign UP
प्रसिद्ध लेखक हृदयेश मेहरोत्रा का निधन

प्रसिद्ध लेखक हृदयेश मेहरोत्रा का निधन





2016-11-02 : हाल ही में, हिंदी के प्रख्यात लेखक हृदयेश मेहरोत्रा का 31 अक्टूबर 2016 को निधन हो गया। वे 86 वर्ष के थे। हृदयेश मेहरोत्रा का जन्म 2 जुलाई 1930 को शाहजहाँपुर,उत्तर प्रदेश में हुआ था। हृदयेश का पूरा नाम हृदय नारायण मेहरोत्रा था। मेहरोत्रा ने गाँठ, हत्या, एक कहानी अंतहीन, सफेद घोड़ा काला सवार, साँड, पुनर्जन्म, दंडनायक, पगली घटी, हवेली सहित 13 उपन्यास लिखे थे।

उन्होंने कहानी संग्रह में छोटे शहर के लोग, अधेरी गली का रास्ता, इतिहास, उत्तराधिकारी, अमरकथा, प्रतिनिधि कहानियाँ, नागरिक, रामलीला तथा अन्य। कहानियाँ, सम्माान, जीवनराग, सन् 1920, उसी जंगल समय में, मेरी प्रिय कहानियाँ, दस प्रतिनिधि कहानियाँ, शुरूवात, प्रेम संबंधों की कहानियाँ, शिकार आदि लिखे।

उन्होंने आत्म,कथा में “जोखिम” भी लिखा था। उनके उपन्यास ‘सांड़’ और ‘सफेद घोड़ा काला सवार’ उत्तर प्रदेश हिंदी संस्थान से पुरस्कृत हो चुके हैं। उन्हें उत्तर प्रदेश सरकार द्वारा साहित्य भूषण और पहल सम्मान से नवाजा जा चुका है।

Provide Comments :





Related Posts :