Forgot password?    Sign UP
अविनाश खन्ना राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के सदस्य नियुक्त किये गये

अविनाश खन्ना राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के सदस्य नियुक्त किये गये





2016-11-07 : अविनाश राय खन्ना को राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग (एनएचआरसी) का सदस्य नियुक्त किया गया है। सुप्रीम कोर्ट के अवकाश प्राप्त मुख्य न्यायाधीश एनएचआरसी के अध्यक्ष हैं। आयोग में अविनाश राय खन्ना की नियुक्ति सम्बन्धी आदेश केन्द्रीय चयन समिति ने दिए। चयन समिति की अध्यक्षता प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने की। अविनाश राय खन्ना भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भी हैं। राजनीति में सक्रिय किसी व्यक्ति की आयोग में इस प्रकार की पहली नियुक्ति है।

55 वर्षीय अविनाश राय खन्ना राज्यसभा के सदस्य भी रह चुके हैं। वर्तमान में वह भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष के साथ साथ जम्मू-कश्मीर राज्य के प्रभारी भी हैं। खन्ना की नियुक्ति के प्रस्ताव को लोकसभा अध्यक्ष, राज्यसभा के उपाध्यक्ष, केंद्रीय गृह मंत्री, लोकसभा में नेता विपक्ष, राज्यसभा में विपक्ष के नेता की सदस्यता और प्रधानमंत्री की अध्यक्षता वाली समिति ने अक्टूबर में स्वीकृति प्रदान की। पाठकों को बता दे की इससे पहले पंजाब में शिरोमणि अकाली दल-भाजपा सरकार ने अविनाश राय खन्ना को राज्य मानवाधिकार आयोग का सदस्य नियुक्त किया राज्यसभा हेतु निर्वाचित होने के कारण 13 महीने कार्य करने के बाद उन्हें पद त्याग करना पड़ा। केंद्र में संप्रग सरकार के दौरान एनएचआरसी में योग्य लोगों की नियुक्ति पर जोर दिया। उन दिनों विपक्षी दाल भाजपा ने सुप्रीम कोर्ट के अवकाश प्राप्त न्यायाधीश सीरिएक जोसेफ की आयोग के सदस्य के रूप में नियुक्ति का विरोध किया था। सुषमा स्वराज और अरुण जेटली दोनों भाजपा नेता उन दिनों चयन समिति में थे।

राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग के बारे में :-

# मानवाधिकार संरक्षण अधिनियम 1993 की धारा 3 के तहत केवल भारत के पूर्व प्रधान न्यायाधीश ही एनएचआरसी के अध्यक्ष नियुक्त हो सकते हैं।

# आयोग में अध्यक्ष के अलावा चार सदस्य होते हैं।

# सदस्यों में एक सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश, एक हाई कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश और दो अन्य हो सकते हैं।

# जिन दो अन्य सदस्यों की नियुक्ति होती है, नियामानुसार वह भी मानवाधिकार मामलों के अच्छे जानकार होने चाहिए।

Provide Comments :





Related Posts :