Forgot password?    Sign UP
वैश्विक व्यापार आशावादी सूचकांक में भारत  को मिला दूसरा स्थान

वैश्विक व्यापार आशावादी सूचकांक में भारत को मिला दूसरा स्थान





2016-11-08 : हाल ही में, ग्रांट थोर्नटोन द्वारा अंतरराष्ट्रीय व्यापार रिपोर्ट 2016 जारी की। इस रिपोर्ट के अनुसार भारत वैश्विक व्यापार आशावादी सूचकांक (जुलाई-सितंबर 2016) में दूसरे स्थान पर है। अप्रैल-जून 2016 समयावधि में भारत तीसरे स्थान पर था। इससे पहले दो तिमाही तक भारत लगातार प्रथम स्थान पर रहा। ताजा रैंकिंग में इंडोनेशिया को प्रथम स्थान प्राप्त हुआ जबकि फिलीपिंस को तीसरा स्थान मिला।

इस रिपोर्ट के अनुसार मोदी सरकार द्वारा आर्थिक सुधारों के लिए की गयी पहल का असर सूचकांक में दिखा है। इसी के परिणामस्वरूप भारत ने एक रैंक का सुधार करके दूसरा स्थान हासिल किया। और इस रिपोर्ट में कहा गया कि आर्थिक सुधारों के अतिरिक्त वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) के चलते स्थिति में सुधार हुआ है। रोज़गार के अवसरों में बढ़ोतरी की संभावना से भी रैंकिंग में सुधार हुआ है।

भारत द्वारा वैश्विक आर्थिक महाशाक्तियों के साथ संबंध सुधारने हेतु किये जा रहे प्रयासों ने भी रैंकिंग को प्रभावित किया। विकास सम्बंधित संभावनाओं में वृद्धि के कारण लगभग 59 प्रतिशत प्रतिक्रियाएं दर्ज की गयीं। राजस्व के आंकड़ों के आधार पर, भारत पहले स्थान से तीसरे स्थान पर आ गया है। राजस्व बढ़ने की संभावना के आधार पर लगभग 85 प्रतिशत प्रतिक्रियाएं दर्ज की गयीं।

Provide Comments :





Related Posts :