Forgot password?    Sign UP
डॉ. सत्यनारायण को बिहारी पुरस्कार से सम्मानित किया गया

डॉ. सत्यनारायण को बिहारी पुरस्कार से सम्मानित किया गया





2016-12-28 : हाल ही में, राजस्थान के प्रसिद्ध साहित्यकार डॉ. सत्यनारायण को वर्ष 2016 का छब्बीसवां बिहारी पुरस्कार देने की घोषणा की गयी। डॉ. सत्यनारायण जोधपुर जिले के निवासी हैं। डॉ. सत्यनारायण का उनकी हिन्दी रिपोर्ताज कृति “यह एक दुनिया” को वर्ष 2016 के 26वें बिहारी पुरस्कार हेतु चयनित किया गया है। इस पुस्तक का प्रकाशन वर्ष 2010 में किया गया। बिहारी पुरस्कार के के बिरला फाउंडेशन द्वारा प्रदान किया जाता है। पुरस्कार स्वरूप डॉ. सत्यनारायण को दो लाख रूपये, प्रतीक चिह्न और प्रशस्ति पत्र प्रदान किया जायेगा।

बिहारी पुरस्कार के बारे मे :-

# बिहारी पुरस्कार साहित्य के क्षेत्र में प्रदान किया जाने वाला पुरस्कार है।

# इसका नाम प्रसिद्ध कवि “बिहारी” के नाम पर रखा गया है।

# बिहारी पुरस्कार की स्थापना वर्ष 1991 में की गयी।

# पहला बिहारी पुरस्कार डॉ. जय सिंह नीरज की कृति “ढ़ाणी का आदमी” को प्रदान किया गया।

# भारत के किसी भी हिस्से में रहने वाले राजस्थान के मूल निवासी या फिर पिछले सात साल से स्थायी रूप से राजस्थान में रहने वाले भारत के किसी भी हिस्से के निवासी लेखक की राजस्थानी या हिन्दी की कृति को बिहारी पुरस्कार प्रदान किया जाता है।

# पुरस्कार प्रदान किए जाने हेतु यह आवश्यक है कि कृति का प्रकाशन बीते दस साल में ही किय गया हो।

# बिहारी पुरस्कार हेतु नंद भारद्वाज की अध्यक्षता में चयन समिति की बैठक में डॉ. सत्यनारायण का चयन किया गया।

Provide Comments :





Related Posts :