Forgot password?    Sign UP
कान्हा टाइगर रिजर्व बना सरकारी शुभंकर हासिल करने वाला पहला टाइगर रिजर्व

कान्हा टाइगर रिजर्व बना सरकारी शुभंकर हासिल करने वाला पहला टाइगर रिजर्व





2017-04-04 : हाल ही में, कान्हा टाइगर रिजर्व मार्च 2017 के अंतिम सप्ताह में भारत का पहला टाइगर रिजर्व बना जिसने आधिकारिक रूप से एक शुभंकर जारी किया। शुभंकर का नाम भूरसिंह है जो एक बारहसिंगा है। यह कदम सख्त जमीन पर पाए जाने वाले बारहसिंगा को रिजर्व की भावना के तौर पर प्रस्तुत करने के लिए उठाया गया है। यह विलुप्त होने की संभावना से प्रजातियों को बचाने के प्रति जागरुकता भी फैलाएगा। बारहसिंगा मध्य प्रदेश का राज्य पशु है। कान्हा टाइगर रिजर्व दुनिया का एक मात्र ऐसा स्थान है जहां हिरणों की यह प्रजाति पाई जाती है।

कान्हा टाइगर रिजर्व के बारे में :-

# कान्हा टाइगर रिजर्व मध्य प्रदेश का सबसे बड़ा राष्ट्रीय उद्यान है।

# कान्हा राष्ट्रीय उद्यान 1 जून 1955 को बनाया गया था। कान्हा टाइगर रिजर्व वर्ष 1973 में बना था।

# वर्तमान में, यह मंडला और बालाघाट, दो जिलों में 940 किमी से भी अधिक के क्षेत्र में फैला है।

# यहां बंगाल टाइगर, भारतीय तेंदुओं, स्लोथ बियर (आलसी भालू), बारहसिंगा और भारतीय जंगली कुत्तों की पर्याप्त आबादी है।

# साल और बांस के हरे– भरे जंगलों, घाल वाले मैदान और उद्यान की गुफाओं ने रुडयार्ड किपलिंग को उनके प्रसिद्ध उपन्यास जंगल बुक की प्रेरणा दी थी।

Provide Comments :





Related Posts :