Forgot password?    Sign UP
F-16 विमानों के निर्माण के लिए लॉकहीड और टाटा में समझौता

F-16 विमानों के निर्माण के लिए लॉकहीड और टाटा में समझौता





2017-06-20 : हाल ही में, भारत की अग्रणी वाहन निर्माण कंपनी टाटा समूह तथा अमेरिकी वैमानिकी कंपनी लॉकहीड मार्टिन ने 19 जून 2017 को एफ-16 लड़ाकू विमानों को भारत में बनाये जाने हेतु समझौते पर हस्ताक्षर किये। टाटा एडवांस्ड सिस्टम्स व लॉकहीड मार्टिन द्वारा इस समझौते की घोषणा पेरिस एयर-शो के अवसर पर की गई और कहा गया है कि यह भारतीय वायुसेना की एक इंजन वाले लड़ाकू विमान की मांग को पूरा करने के अनुकूल है। टाटा व लॉकहीड मार्टिन के इस समझौते को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मेक इन इंडिया कार्यक्रम के लिए बड़ा समर्थन बताया जा रहा है। इस समझौत की घोषणा ऐसे समय में की गई है जबकि प्रधानमंत्री मोदी थोड़े ही दिन में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप के साथ बैठक के लिए अमेरिका जा रहे हैं।

इस सौदे के तहत लॉकहीड मार्टिन टेक्सास के अपने फोर्ट वर्थ कारखाने को भारत में स्थानांतरित करेगी। यह समझौता लॉकहीड मार्टिन व टाटा के बीच पूर्व स्थापित संयुक्त उद्यम पर आधारित है। लॉकहीड मार्टिन का दावा है कि एफ-16 ब्लॉक 70 उसका सबसे नया और सबसे उन्नत उत्पाद है। एफ-16 फाइटर जेट भारत में "मेक इन इंडिया" मुहिम के तहत बनाए जाएंगे इसमें कोई भी अमेरिकी अपनी नौकरी नहीं खोएगा। एफ-16 मैक 1.2 की गति से उड़ता है और दुनिया के तमाम युद्धक्षेत्रों में अपनी उपयोगिता साबित कर चुका है।

लॉकहीड मार्टिन के बारे में :-

# यह सुरक्षा और एयरोस्पेस क्षेत्र की विनिर्माण कंपनी है जिसका मुख्यालय मैरीलैंड, अमेरिका में स्थित है।

# यह मुख्यतः उन्नत प्रौद्योगिकी प्रणालियों, उत्पादों और सेवाओं के अनुसंधान, डिजाइन, विकास, निर्माण, एकीकरण और संरक्षण में कार्यरत कम्पनी है।

# इसमें विश्वभर में लगभग 97000 कर्मचारी कार्यरत हैं। मैरीलेन ए ह्यूसन इस कंपनी के चेयरमैन, प्रेसिडेंट एवं सीईओ हैं।

Provide Comments :




Related Posts :