Forgot password?    Sign UP
माटुंगा भारत का पहला महिला संचालित रेलवे स्टेशन बना

माटुंगा भारत का पहला महिला संचालित रेलवे स्टेशन बना





2017-07-17 : हाल ही में, महिलाओं के सशक्तिकरण के विषय में मध्य रेलवे के माटुंगा रेलवे स्टेशन ने जुलाई 2017 में नई मिसाल कायम की है। यह देश का पहला महिला स्टेशन है जहां केवल महिला कर्मचारी ही तैनात हैं। माटुंगा की स्टेशन प्रबंधक ममता कुलकर्णी हैं जिनकी देखरेख में यहां महिलाएं ऑन ड्यूटी तैनात हैं। सरकार द्वारा इस स्टेशन को एक प्रयोग के तौर पर इस्तेमाल किया जा रहा है यदि यह प्रयोग सफल रहता है तो कई अन्य स्टेशनों पर भी इसे लागू किया जा सकता है। माटुंगा रेलवे स्टेशन पर प्रबंधक से लेकर टिकट जांच अधिकारी, टिकट बुकिंग समेत सभी कर्मचारी महिलाएं हैं। एक माह के प्रयोग के बाद अब माटुंगा को अब पूरी तरह महिलाओं के सुपुर्द कर दिया गया है।

माटुंगा स्टेशन के बारे में :-

# स्टेशन पर कुल 30 महिला कर्मचारी तैनात हैं जो यात्रियों की सुविधाओं को ध्यान में रखकर अलग-अलग कार्यों के लिए नियुक्त की गयी हैं।

# इनमें 11 महिलाएं बुकिंग क्लर्क के पद पर, जबकि 05 आरपीएफ कर्मी और सात टिकट कलक्टर (टीसी) हैं तथा बाकी अन्य पदों पर कार्यरत हैं।

# इस स्टेशन की स्टेशन प्रबंधक ममता ने जब 1992 में मध्य रेलवे में नौकरी शुरू की थी उस समय वे मुंबई के किसी भी रेलवे स्टेशन की पहली महिला स्टेशन प्रबंधक थीं।

# माटुंगा रेलवे स्टेशन छात्रों की बहुतायत के लिए जाना जाता है। आसपास विश्विद्यालय होने के कारण यहां के अधिकतर यात्री छात्र ही होते हैं।

Provide Comments :





Related Posts :