Forgot password?    Sign UP
हिमाचल प्रदेश बना इलेक्ट्रिक बस चलाने वाला भारत का पहला राज्य

हिमाचल प्रदेश बना इलेक्ट्रिक बस चलाने वाला भारत का पहला राज्य





2017-09-23 : हाल ही में, हिमाचल प्रदेश भारत में इलेक्ट्रिक बस चलाने वाला पहला राज्य बन गया है। यह दावा परिवहन मंत्री जीएस बाली ने 21 सितंबर 2017 को कुल्लू से रोहतांग के लिए इलेक्ट्रिक बस सेवा को हरी झंडी दिखाने के बाद किया। उन्होंने कहा कि कुल्लू और मनाली में आठ सीटर इलेक्ट्रिक कार भी चलाई जाएगी। विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल रोहतांग में बढ़ते प्रदूषण को देखते हुए एनजीटी ने काफी सख्ती दिखाई थी। यहां टूरिस्ट गांड़ियों की संख्या में कटौती कर दी थी। इसके बाद हिमाचल प्रदेश सरकार ने रोहतांग के लिए इलेक्ट्रिक बसें चलाने की योजना बनाई थी।

प्रत्येक इलेक्ट्रिक बस में 30 यात्रियों को बैठने की क्षमता होगी। यह बस एक बार चार्जिंग के बाद 150 से 200 किलोमीटर का सफर तय करेगी। यह बसें ऑफ सीजन में भुंतर एयरपोर्ट से कुल्लू-मनाली के लिए चलेगी। इस बेड़े में कुल 10 बसें होंगे। हिमाचल सरकार ने इस तरह की अत्याधुनिक बस चलाकर इतिहास रचा है। इलेक्ट्रिक बस को हिम तरंग नाम दिया गया है।

एसी इलेक्ट्रिक बसों के बेड़े के बाद परिवहन विभाग की सामान्य किराए पर भी लग्जरी बस सेवा शुरू होगी। विभाग ने 18 लग्जरी बसें ली है। परिवहन मंत्री जीएस बाली ने कहा कि कुल्लू और मनाली में आठ सीटर इलेक्ट्रिक कार चलाई जाएगी। इनमें किराया फिक्स रखा जाएगा। कार कुल्लू-मनाली की गलियों में गुजर सकेगी। इनका किराया 10, 15, 20 रुपये रखा जाएगा। कहा कि नई लग्जरी बसों में मान्यता प्राप्त पत्रकार को निशुल्क सफर की सुविधा होगी। परिवहन, खाद्य आपूर्ति और तकनीकी शिक्षा मंत्री जीएस बाली ने कहा है कि कुल्लू में 30 करोड़ रुपये की लागत से अत्याधुनिक बस अड्डे का निर्माण किया जाएगा।

Provide Comments :





Related Posts :