Forgot password?    Sign UP
विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस (World mental health day) मनाया गया

विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस (World mental health day) मनाया गया





2019-10-10 : हाल ही में, 10 अक्टूबर 2019 को विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस मनाया गया है, प्रत्येक साल 10 अक्टूबर को यह दिवस पूरी दुनिया में मनाया जाता है। यह दिवस मानसिक स्वास्थ्य के विषय में जागरूकता बढ़ाने के उद्देश्य से मनाया जाता है। विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस 2019 की थीम ‘आत्महत्या की रोकथाम’ (Suicide Prevention) रखी गई है। इस बार का विश्व मानसिक स्वास्थ्य दिवस का थीम ‘आत्महत्या की रोकथाम’ इसलिए रखा गया है क्योंकि बढ़ती हुई आत्महत्यों के बारे में लोगों को बताना है तथा इस दिवस के बारे में लोगों को जागरूक करना है। लोगों के बीच मानसिक परेशानी की रोकथाम की शुरूआत जागरूकता बढ़ाकर तथा मानसिक रोग के प्रारंभिक चेतावनी संकेतों एवं लक्षणों को समझाकर करनी चाहिए।

मानसिक रोग के कारण लक्षण और उपाय बारे में :-

# मानसिक रोग बहुत से प्रकार का हो सकता है। इसमें मस्तिष्क से जुड़े प्रत्येक तरह की समस्याओं को शामिल किया जा सकता है। जैसे अल्जाइमर, ऑटिज्म, डिप्रेशन, तनाव, चिंता, डिस्लेक्सिया, कमजोर याददाश्त, डर लगना, भूलने की आदत आदि है।

# मानसिक रोग होने के बहुत से कारण हो सकते है। मानसिक रोग होने का अधिक संभावना उन लोगों में होता है जिनके रिश्तेदारों को भी मानसिक बीमारी होती है।

# न्यूरोट्रांसमीटर स्वाभाविक रूप से वातावरण के प्रभाव में मस्तिष्क के रसायनों को आपके दिमाग तथा शरीर के अन्य भाग में ले जाता है। इनसे जुड़े तंत्रिका तंत्र जब ठीक से काम नहीं करता हैं तो तंत्रिका तंत्र में कुछ परिवर्तन हो जाते हैं और लोगों को डिप्रेशन की समस्या हो जाती है। कभी-कभी शराब या ड्रग्स के पीने से भी मानसिक रोग हो सकते हैं।

# मानसिक रोग के कुछ लक्षण इस प्रकार है जैसे की उदास रहना, व्याकुल होना, मन न लगना, डर लगना, बार-बार मन में परिवर्तन होना, थकान, कमजोरी होना तथा नींद में दिक्कतों का सामना करना आदि। दैनिक कार्यों में कभी-कभी असमर्थता तथा भूलने की समस्या होना भी मानसिक रोग के लक्षण है।

# मानसिक रोग को दूर करने का सबसे बढ़िया उपाय आत्मविश्वास बढ़ाना तथा खुद की एहमियत एवं कीमत को समझना है। अपने परिवार के साथ थोड़ा समय बिताने की कोशिश करना चाहिए। मानसिक रोग को दूर करने के लिए अपने आप को जितना हो सके व्यस्त रखे। इस रोग को दूर भगाने का सबसे मुख्य और आसान तरीका मनोचिकित्सक की सलाह लेना भी है।

Provide Comments :





Related Posts :