Forgot password?    Sign UP
ग्लोबल जेंडर गैप इंडेक्स में भारत को मिला 112वां स्थान

ग्लोबल जेंडर गैप इंडेक्स में भारत को मिला 112वां स्थान





2019-12-17 : हाल ही में, वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम (WEF) की वर्ष 2019 की लैंगिक असमानता (Gender Gap) रिपोर्ट में भारत को 112वां स्थान प्राप्त हुआ है। इसका मतलब यह है की भारत लिंग असामनता के मामले में साल 2018 के मुकाबले चार रैंक पिछड़ गया है। आइसलैंड लैंगिक असमानता के मामले में विश्व का सबसे बेहतर देश बना हुआ है। इस देश में महिलाओं के साथ किसी प्रकार का कोई भेदभाव नहीं होता है। डब्लूईएफ ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि विश्वभर में लिंगभेद कम तो हो रहा है लेकिन अभी भी महिलाओं एवं पुरुषों के बीच स्वास्थ्य, शिक्षा, कार्यालय तथा राजनीति में भेदभाव मौजूद है।

वर्ल्ड इकोनॉमिक फोरम की जेंडर गैप रिपोर्ट के अनुसार चीन 106वें स्थान पर, श्रीलंका 102वें स्थान पर, नेपाल 101वें स्थान पर, ब्राजील 92वें स्थान पर, इंडोनेशिया 85वें स्थान पर और बांग्लादेश 50वें स्थान पर हैं। वहीं यमन 153वें स्थान पर, ईराक 152वें स्थान पर और पाकिस्तान 151वें स्थान पर है। और इस रिपोर्ट के अनुसार, देश में शिक्षा, स्वास्थ्य, काम और राजनीति के क्षेत्र में महिलाओं और पुरुषों में अभी भी असमानता है। हालांकि, साल 2018 में स्थिति थोड़ी बेहतर हुई थी। डब्ल्यूईएफ ने कहा कि राजनीति में महिलाओं की स्थिति में काफी सुधार देखा जा सकता है। राजनीतिक असमानता को खत्म होने में लगभग 95 साल लगेंगे। पिछले साल कहा जा रहा था कि इसमें लगभग 107 साल लग सकता है।

Provide Comments :





Related Posts :