Forgot password?    Sign UP
विश्वनाथन आनंद बने वर्ल्ड वाइड फंड (WWF) के ब्रांड एंबेसडर

विश्वनाथन आनंद बने वर्ल्ड वाइड फंड (WWF) के ब्रांड एंबेसडर





2020-04-18 : हाल ही में, पांच बार के विश्व शतरंज चैंपियन विश्वनाथन आनंद, वर्ल्ड वाइड फंड (WWF) इंडिया के पर्यावरण शिक्षा कार्यक्रम के एंबेसडर बने। डब्ल्यूडब्ल्यूएफ इंडिया ने भारत में पर्यावरण सरंक्षण के 50 वर्ष पूरे किए हैं और पर्यावरण के लिए संरक्षण और बचाव के लिए विश्वनाथन आनंद के जुड़ने से खुश है। पूर्व विश्व चैंपियन विश्वनाथन आनंद कोरोना वायरस (Corona virus) से लड़ने में भी मदद कर रहे हैं।

वर्ल्ड वाइड फंड (WWF) के बारे में :-

# WWF का गठन साल 1961 में हुआ था। यह पर्यावरण के संरक्षण, अनुसंधान एवं रख-रखाव संबंधी विषयों पर कार्य करता है।

# इसका पूरा नाम World Wildlife Fund है। इसका मुख्यालय ग्लैंड (स्विट्ज़रलैंड) में है।

# इसका मुख्य उद्देश्य पृथ्वी के प्राकृतिक वातावरण के क्षरण को रोकना और एक ऐसे भविष्य का निर्माण करना है जिसमें मनुष्य प्रकृति के साथ सामंजस्य स्थापित कर सकें।

विश्वनाथन आनंद के बारे में :-

# विश्वनाथन आनंद का जन्म 11 दिसंबर 1969 को तमिलनाडु के मयिलादुथुरई में हुआ था। उन्होंने छह साल की उम्र से अपनी मां से शतरंज खेलना सीखा था।

# विश्वनाथन आनंद शतरंज की दुनिया के उन चुनिंदा खिलाड़ियों में हैं, जिन्होंने अपने जमाने के हर खिलाड़ी को मात दी है।

# वे साल 2003 में फीडे विश्व शतरंज चैंपियनशिप में विश्व शतरंज बने और वे अपने समय के ड्रीड खिलाड़ी माने जाते हैं।

# विश्वनाथन आनंद दुनिया के सिर्फ चौथे खिलाड़ी हैं जिन्होंने चेस रेटिंग सिस्टम ईएलओ में 2800 का अंक पार किया।

# वे साल 1988 में भारत के पहले ग्रैंडमास्टर बने।

# साल 1988 में महज 18 साल की उम्र में उन्हें पद्मश्री से सम्मानित किया गया।

# विश्वनाथन आनंद को साल 1992 में राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार मिला। वे यह सम्मान पाने वाले देश के पहले खिलाड़ी हैं।

Provide Comments :




Related Posts :