Forgot password?    Sign UP
 US कैदियों को शिक्षित करने के लिए न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी ने प्रिजन एजूकेशन प्रोग्राम की घोषणा की |

US कैदियों को शिक्षित करने के लिए न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी ने प्रिजन एजूकेशन प्रोग्राम की घोषणा की |





0000-00-00 : न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी (एनवाययू) ने 19 मार्च 2015 को यूएस के कैदियों को शिक्षित करने के लिए प्रिजन एजूकेशन प्रोग्राम (पीईपी) की घोषणा की | इस प्रोग्राम के प्रमुख न्यूयॉर्क यूनिवर्सिटी (एनवाययू) के भारतीय अमेरिकी प्रोफेसर निखिल पाल सिंह होंगे | न्यूयॉर्क राज्य में मध्यम सुरक्षा जेल के कैदियों तक कॉलेज शिक्षा पहुंचाने की दिशा में न्यूयॉर्क विश्वविद्यालय का यह कदम एक नई पहल है | यह प्रोग्राम क्रेडिट बेयरिंग यूनिवर्सिटी पाठ्यक्रमों की पेशकश करता है, जो विद्यार्थियों को विश्वविद्यालय से एसोसिएट ऑफ़ आर्ट्स (एए) की डिग्री लेने में सक्षम बनाएगा | इस प्रोग्राम के संचालन में सहयोग के लिए फोर्ड फाउंडेशन द्वारा 500000 यूएस डॉलर का अनुदान दिया गया | विश्वविद्यालय के इस कार्यक्रम का उद्देश्य असमानताओं के निवारण में मदद करना है, जो इस तथ्य का परिणाम है कि संयुक्त राज्य अमेरिका दुनिया के किसी अन्य देश की तुलना में जेल में बंद लोगों को अधिक महत्व देता है | यह पाठ्यक्रम 2015 वसंत सेमेस्टर से शुरू होगा. कक्षाओं में न्यूयार्क यूनिवर्सिटी के फैकल्टी द्वारा शिक्षा प्रदान की जाएगी और न्यूयार्क यूनिवर्सिटी के प्रोफेशनल स्कूलों द्वारा दोनों इंटेंसिव लिबरल आर्ट्स स्टडी व इंट्रोडक्ट्री पाठ्यक्रम को पेश किया जाएगा | न्यूयार्क यूनिवर्सिटी कक्षाओं के लिए न्यूयॉर्क राज्य के अलस्टर काउंटी में वॉलकिल सुधार गृह में दो कक्षाओं में से एक के लिए 36 लोगों को लिया जाएगा | यह प्रोग्राम जेल में निरुद्ध छात्रों के लिए विश्वविद्यालयीय शिक्षा में विस्तार करेगा | साथ ही इसके अंतर्गत शिक्षा और रोजगार परक काउंसलिंग की सुविधा, परिवारों के लिए सामुदायिक सहयोग और अन्य सुविधाएं जैसे मानव अधिकारों के लिए न्यायिक सहायता, हाउसिंग और रोजगार से जुड़े मुद्दों पर भी सहायता प्रदान की जाएगी | सजा से रिहा होने के बाद प्रोग्राम में पंजीकृत विद्यार्थी अपनी कॉलेज शिक्षा न्यूयार्क यूनिवर्सिटी में अथवा क्रेडिट हस्तांतरण के बाद किसी अन्य संस्थान से पूरी कर सकते हैं |

Provide Comments :





Related Posts :