Forgot password?    Sign UP
केंद्र सरकार ने तीसरे

केंद्र सरकार ने तीसरे "वेब रत्न (Web Ratna)" पुरस्कार के विजेताओं को सम्मानित किया |





0000-00-00 : संचार एवं सूचना प्रौद्योगिकी मंत्री रविशंकर प्रसाद ने 25 मार्च 2015 को वर्ष 2014 के वेब रत्न पुरस्कार के विजेताओं को सम्मानित किया | यह तीसरा वेब रत्न पुरस्कार था | ये पुरस्कार नई दिल्ली स्थित इंडिया हैबिटेट सेंटर में आयोजित एक समारोह प्रदान किए गए | पुरस्कार और पुरस्कार विजेताओं की सूची कुछ इस प्रकार है : 1st. नागरिक केंद्रित सेवा श्रेणी: (i) प्लेटिनम पुरस्कार: पासपोर्ट सेवा परियोजना | (ii) स्वर्ण पुरस्कार: राष्ट्रीय सफाई कर्मचारी वित्त विकास निगम | (iii) रजत पुरस्कार: राष्ट्रीय मुक्त विद्यालयी शिक्षा संस्थान (NIOS) | 2nd. ओपन डाटा चैंपियन श्रेणी: (i) प्लेटिनम पुरस्कार: रजिस्ट्रार जनरल तथा जनगणना आयुक्त कार्यालय | (ii) स्वर्ण पुरस्कार: योजना आयोग तथा सांख्यिकी एवं कार्यक्रम कार्यान्वयन मंत्रालय | (iii) रजत पुरस्कार: जल संसाधन मंत्रालय | 3rd. टेक्नोलॉजी के नवाचारी उपयोग श्रेणी: (i) प्लेटिनम पुरस्कार: किसान केन्द्रित सेवाओं के लिए एम किसान –गवर्नमेंट ऑफ इंडिया पोर्टल | (ii) स्वर्ण पुरस्कार: वाणिज्य कर विभाग, मध्य‍ प्रदेश तथा वाणिज्य कर विभाग, तमिलनाडु | (iii)रजत पुरस्कार: महाराष्ट्र सरकार की ऑनलाइन सहकारी सोसाइटी प्रक्रिया प्रबंधन प्रणाली ई-सहकार 4th. उत्कृष्ट कंटेंट श्रेणी: (i) प्लेटिनम पुरस्कार: विदेश मंत्रालय | (ii) स्वर्ण पुरस्कार: जनजातीय मामले मंत्रालय, केरल पर्यटन | (iii) रजत पुरस्कार: पूर्वोत्तर क्षेत्र विकास मंत्रालय | 5th. व्यापक वेब उपस्थिति श्रेणी: (i) प्लेटिनम पुरस्कार: सूचना और प्रसारण मंत्रालय | (ii) स्वर्ण पुरस्कार: स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय | (iii) रजत पुरस्कार: लेखा महानियंत्रक | 6th. व्यापक वेब उपस्थिति राज्य श्रेणी: (i) प्लेटिनम पुरस्कार: महाराष्ट्र | (ii) स्वर्ण पुरस्कार: तमिलनाडु | (iii) रजत पुरस्कार: उत्तराखंड | >>वेब रत्न पुरस्कार के बारे मैं कुछ मुख्य बातें : संचार और सूचना प्रौद्योगि‍की मंत्रालय ने वेब रत्न पुरस्कारों की स्थापना की | इसके तहत ई-गवर्नेंस के क्षेत्र में वि‍भि‍न्न राज्यों और केन्द्र शासि‍त प्रदेशों की ओर से की गई पहलों और चलनों की पहचान की जाती है | वेब रत्न‍ पुरस्कार के जरि‍ए ई-गवर्नेंस के प्रयासों की पहचान की जाती है | ऐसे व्यक्तिगत और संस्था‍गत प्रयासों को पुरस्कृत और स्वीकृत करने के लि‍ए ही वेब रत्न पुरस्कार शुरू कि‍ए गए है | इससे सरकार को बेहतर गवर्नेंस की दि‍शा में मदद मि‍ली | वेब रत्न पुरस्कारों की स्थापना वर्ष 2009 में हुई थी | पहले और दूसरे वेब रत्न पुरस्कार वर्ष 2009 और 2012 में प्रदान किए गए |

Provide Comments :





Related Posts :