Forgot password?    Sign UP
फ्रांस की सर्वोच्च अदालत ने बुरकिनी बैन को असंवैधानिक करार दिया

फ्रांस की सर्वोच्च अदालत ने बुरकिनी बैन को असंवैधानिक करार दिया





2016-08-29 : हाल ही में, फ्रांस की सर्वोच्च अदालत ने 26 अगस्त 2016 को सरकार द्वारा लगाए गए बुरकिनी बैन को हटा दिया है। अदालत ने इसको गंभीर असंवैधानिक कानून बता कर इसको मानवाधिकारों का सीधा उल्लंघन करार देते हुयें फ्रांस सरकार की जमकर फटकार लगाईं है।

बुरकिनी एक तरह का स्विमसूट है। बिकनी से बेहद अलग और बुर्के से काफी मिलता-जुलता। जो मुस्लिम महिलाओं के लिए बना है। इस स्विम सूट को पहनकर पूरे शरीर को ढंका जा सकता है और तैरा जा सकता है। इसे 2004 में लेबनन मूल की एक ऑस्ट्रेलियाई महिला अहिदा जानेटी ने तब डिजाइन किया जब उसने अपनी भतीजी को हिजाब पहनकर नेटबॉल खेलते देखा।

फ्रांस के कई शहरों में बुरकिनी को ये कहते हुए प्रतिबंधित कर दिया गया था कि यह धर्मनिरपेक्षता के कानून को खारिज करता है। जिसके बाद बुरकिनी पर लगे बैन को हटाने के लियें महिलाओ ने कोर्ट का दरवाज़ा खटखटाया था। बुरकिनी पर लगे बैन पर सर्वोच्च अदालत ने अपना सख्त ऐतराज़ जताया और इसे मानव-अधिकार का हनन बताया है।

Provide Comments :




Related Posts :