Forgot password?    Sign UP
भारत बना दुनिया में दूसरा सबसे ज्यादा असमानता वाला देश

भारत बना दुनिया में दूसरा सबसे ज्यादा असमानता वाला देश





2016-09-08 : संपत्ति शोध कंपनी न्यू वर्ल्ड वेल्थ के द्वारा सितम्बर 2016 के पहले सप्ताह मे प्रकाशित रिपोर्ट में विश्व में भारत दूसरा सबसे ज्यादा असमानता वाला देश है जहां पर कुल संपत्ति का आधे से अधिक सम्पत्ति ऐसे अमीरों के हाथ में केंद्रित है जिनकी सामर्थ्य दस लाख डॉलर (लगभग 6.7 करोड़ रुपए) से अधिक की है। संपत्ति शोध कंपनी न्यू वर्ल्ड वेल्थ के अनुसार रूस के बाद भारत विश्व का दूसरा सबसे ज्यादा असमानता वाला देश है जहां पर 54 प्रतिशत संपत्ति मात्र कुछ करोड़पतियों के पास है।

भारत विश्व के 10 सबसे अमीर देशों की सूची में शामिल है जहां कुल संपत्ति 5,600 अरब डॉलर है लेकिन फिर भी औसतन भारतीय गरीब है। वैश्विक तौर पर रूस विश्व का सबसे ज्यादा असमान देश है जहां कुल संपत्ति के 62 प्रतिशत पर मात्र कुछ अमीरों का नियंत्रण है।

वहीं जापान विश्व पर सबसे ज्यादा समानता वाला देश हैं जहां धनाढ्यों के हाथ में कुल संपत्ति का केवल 22 प्रतिशत हिस्सा है। और वहीं दूसरी तरफ ऑस्ट्रेलिया में भी कुल संपत्ति के मात्र 28 प्रतिशत पर ही करोड़पतियों का अधिकार है। वहीं अमेरिका और ब्रिटेन भी समानता वाले देशों में शामिल हैं। इनमें कुल संपत्ति के क्रमश: 32 प्रतिशत और 35 प्रतिशत पर ही अमीरों का कब्जा है।

Provide Comments :





Related Posts :