Forgot password?    Sign UP
किरण मजूमदार शॉ को फ्रांस का सर्वोच्च नागरिक सम्मान से सम्मानित किया गया

किरण मजूमदार शॉ को फ्रांस का सर्वोच्च नागरिक सम्मान से सम्मानित किया गया





2016-10-25 : बायोकान की चेयरपर्सन एवं प्रबंध निदेशक किरण मजूमदार शॉ को हाल ही में फ्रांस के सर्वोच्च नागरिक सम्मान से सम्मानित किया गया है। भारत में फ्रांस के राजदूत एलेक्जेंद्रे जिएग्लर ने फ्रांस के राष्ट्रपति की ओर से किरण मजूमदार शॉ को इस सम्मान से सम्मानित किया। उन्हें यह सम्मान बायोसाइंस के क्षेत्र में उत्कृष्ट योगदान और समर्पण एवं इस क्षेत्र में अनुसंधान के लिए दिया गया।

किरण मजूमदार शॉ का जन्म 23 मार्च 1953 को बेंगलुरु में हुआ था। उन्होंने कुछ समय के लिए कोलकाता के जूपिटर ब्रुअरीज लिमिटेड में तकनिकी सलाहकार के रूप में काम किया। उन्होंने बड़ौदा के स्टैंडर्ड मॉल्टिंग कॉरपोरेशन में भी वर्ष 1975 से 1977 तक तकनिकी प्रबंधक के रूप में भी काम किया। इंग्लैंड की मशहूर पत्रिका ‘द मेडिसिन मेकर’ ने दवा क्षेत्र की 100 हस्तियों की सूची में उन्हें दूसरे स्थान पर रखा। वे अभी बायोकॉन की अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक हैं।

उन्हें वर्ष 1989 में भारत सरकार के प्रतिष्ठित पुरस्कार पद्मश्री से सम्मानित किया। और उन्हें वर्ष 2005 में पद्म भूषण पुरस्कार से भी सम्मानित किया गया है। उन्होंने वर्ष 2002 में कर्नाटक राज्योत्सव पुरस्कार से सम्मानित किया गया। हाल ही में ‘टाइम पत्रिका’ के विश्व के 100 सबसे प्रभावशाली लोगों की सूची में इनका नाम भी शामिल किया गया है।

उन्हें वर्ष 2004 में जैव-प्रौद्योगिकी में इनके योगदानों के लिए मातृ संस्थान बैलेरैट यूनिवर्सिटी ने विज्ञान का मानद डॉक्टरेट उपाधि प्रदान किया। उन्होंने वर्ष 2004 में समाज के गरीब और कमजोर वर्गों को लाभ पहुंचाने के लिए स्वास्थ्य, शिक्षा, स्वच्छता तथा पर्यावरण कार्यक्रम संचालित करने के लिए बायोकॉन फाउंडेशन शुरू किया।

Provide Comments :




Related Posts :