Forgot password?    Sign UP
भारत और बहरीन ने मादक पदार्थों की तस्करी रोकने हेतु समझौतों पर हस्ताक्षर किए

भारत और बहरीन ने मादक पदार्थों की तस्करी रोकने हेतु समझौतों पर हस्ताक्षर किए





2016-10-26 : भारत और बहरीन ने आतंकवाद का मुकाबला करने तथा मादक पदार्थों की तस्करी पर रोक लगाने में सहयोग हेतु समझौतों पर हस्ताक्षर किए। दोनों देश आतंकवाद को समूची दुनिया के लिए खतरा मानते हैं। यह समझौता केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह की तीन दिन की बहरीन के दौरान किए गए। भारत और बहरीन ने आतंकवादी घटनाओं और नशीले पदार्थों की तस्करी सहित संगठित अपराध से संबंधित विभिन्न मामलों की जांच से जुड़ी जानकारी के आदान-प्रदान, दोनों देशों के कानून के अनुसार आतंकवादी गतिविधियों के लिए धन के लेन देन संबंधी जानकारी साझा करने, युवाओं को भड़काने तथा आतंकी गतिविधियों में इंटरनेट के इस्तेमाल, ई-सुरक्षा तथा काले धन का उपयोग रोकने पर भी सहमति व्यक्त की। बहरीन की राजधानी मनामा में केंद्रीय गृह मंत्री राजनाथ सिंह व बहरीन के गृह मंत्री लेफ्टिनेंट जनरल शेख राशिद बिन अब्दुल्ला अल खलीफा की मौजूदगी में इन समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए।

समझौते के मुख्य बिंदु इस प्रकार है......

# दोनों पक्षों ने आतंकवाद के सभी रूपों के खिलाफ कड़ा रुख अपनाने पर सहमति व्यक्त की। आतंकवाद सभी देशों और समुदायों के लिए एक खतरा है।

# दोनों देशों के नेताओं ने किसी भी जाति, धर्म या संस्कृति से आतंकवाद को जोड़ने की धारणा को अस्वीकार कर दिया।

# दोनों देशों ने इस बात पर सहमत व्यक्त की कि किसी भी देश में आतंकवादी गतिविधियों में लिप्त व्यक्ति को किसी अन्य देश के द्वारा स्वतंत्रता सेनानियों के रूप में महिमामंडित नहीं किया जा सकता।

# दोनों देशों के अनुसार किसी भी देश के आंतरिक मामलों में हस्तक्षेप करने के लिए आतंकवाद का सहारा तर्क सांगत नहीं है।

# दोनों देशों ने विश्व समुदाय से मौजूदा आतंकवादी ढांचे के सफाए की अपील की।

# दोनों देशों ने सक्रिय रूप से आतंकवाद का मुकाबला करने के समझौते पर सहमति जतायी। उन्होंने एक संयुक्त संचालन समिति का गठन भी किया। जिसकी पहली बैठक भी आयोजित की गयी। दोनों ने नियमित रूप से समिति की बैठक आगे भी करते रहने का फैसला किया।

# लेफ्टिनेंट जनरल शेख राशिद के अनुसार आतंकवाद जीवन तथा बुनियादी ढांचे को नुकसान पहुंचाता है। बहरीन ने भी आतंकवादी घटनाओं का सामना किया है।

Provide Comments :




Related Posts :