Forgot password?    Sign UP
रक्षा व्यय के मामले में भारत विश्व में चौथे नंबर पर

रक्षा व्यय के मामले में भारत विश्व में चौथे नंबर पर





2016-12-15 : भारत ने सबसे ज़्यादा रक्षा व्यय के मामले में रूस और सऊदी अरब को पछाड़कर चौथा स्थान हासिल कर लिया है। अपनी सैन्य क्षमता को अत्याधुनिक बनाने की कवायद के चलते भारत ने रक्षा व्यय के मामले में विश्व के पांच सबसे ज़्यादा खर्च करने वाले देशों में जगह बना ली है। आईएचएस जेन की वार्षिक रक्षा बजट रिपोर्ट के हवाले से कहा गया है। हालांकि 622 अरब अमेरिकी डॉलर के खर्च के साथ अमेरिका पहले स्थान पर है। दूसरे नंबर पर चीन है। तीसरे स्थान पर ब्रिटेन मौजूद है।

अमेरिका के अतिरिक्त समूचे यूरोप तथा चीन समेत सारी विश्व में उभरते विवादों तथा अस्थिरता के दौर की वजह से अगले दशक के दौरान रक्षा व्यय में बढ़ोतरी होगी। वर्ष 2016 के दौरान रक्षा व्यय फिर काफी अच्छी दर से बढ़ा है। आईएचएस जेन की वार्षिक रक्षा बजट रिपोर्ट के अनुसार, वर्ष 2010 के बाद पहली बार नाटो के रक्षा व्यय में भी बढ़ोतरी हुई है, क्योंकि उन्हें आईएसआईएस और रूस की ओर से पेश होने वाले खतरे का सामना करना पड़ सकता है। रिपोर्ट के अनुसार, वर्ष 2016 के दौरान वैश्विक रक्षा व्यय कुल एक फीसदी की बढ़ोतरी के साथ 16 खरब अमेरिकी डॉलर पर पहुंच गया। वर्ष 2015 में इसमें 0.6 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की गई थी।

Provide Comments :





Related Posts :