Forgot password?    Sign UP
ISRO ने सफलतापूर्वक 104 सेटेलाईट प्रक्षेपित किये

ISRO ने सफलतापूर्वक 104 सेटेलाईट प्रक्षेपित किये





2017-02-15 : हाल ही में, भारतीय अन्तरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) द्वारा 15 फरवरी 2017 को सफलतापूर्वक 104 सेटेलाईट प्रक्षेपित किये गये। इन सेटेलाईटों में कार्टोसैट-2 सेटेलाईट भी शामिल है। भारतीय अन्तरिक्ष संगठन के पीएसएलवी सी37 राकेट द्वारा श्रीहरिकोटा स्थित धवन अन्तरिक्ष केंद्र से 9.28 मिनट पर इसे छोड़ा गया। इस मिशन में अमेरिका के अतिरिक्त इज़राइल, हॉलैंड, यूएई, स्विट्जरलैंड और कजाकिस्तान के छोटे आकार के सैटेलाइट शामिल हैं जबकि भारत के केवल तीन ही सैटेलाइट शामिल हैं। पाठकों को बता दे की यह रिकॉर्ड अब तक रूस के नाम दर्ज था जिसने 37 सेटेलाईट एक साथ प्रक्षेपित करके यह उपलब्धि हासिल की थी। इसरो ने जून 2015 में 23 सेटेलाईट प्रक्षेपित करके अपनी काबलियत साबित की।

# इस मिशन में मुख्य सेटेलाईट 714 किलोग्राम वजन वाला कार्टोसैट-2 शामिल है।

# इसके अलावा इसरो के दो तथा 101 विदेशी नैनो सेटेलाईटों का भी प्रक्षेपण किया गया। इनका कुल वजन 664 किलोग्राम था।

# विदेशी सेटेलाईटों में 96 अमेरिका के जबकि इज़रायल, कजाखस्तान, नीदरलैंड, स्विटजरलैंड और संयुक्त अरब अमीरात के एक-एक सेटेलाईट शामिल हैं।

# इस मिशन में सैन फ्रांसिस्को की एक प्राइवेट कम्पनी के 88 नैनो सेटेलाईट भी प्रक्षेपित किये गये।

# इसरो ने इस मिशन के लिए अपने सबसे भारी रॉकेट पीएसएलवी का प्रयोग किया है। पीएसएलएवी-37 का वजन 320 टन, ऊंचाई 44.4 मीटर है।

# अब तक पीएसएलवी की सहायता से 38 मिशन सफलतापूर्वक पूरे किये जा चुके हैं।

# इसरो का यह रॉकेट 15 मंजिला इमारत जितना ऊंचा है।

Provide Comments :





Related Posts :