Forgot password?    Sign UP
भारत कारोबार में भ्रष्टाचार की सूची में 9वें स्थान पर : रिपोर्ट

भारत कारोबार में भ्रष्टाचार की सूची में 9वें स्थान पर : रिपोर्ट





2017-04-10 : कारोबार में भ्रष्टाचार और रिश्वतखोरी के लिहाज से भारत को 41 देशों की सूची में नौवें स्थान पर रखा गया है। वैसे पहले की तुलना में उसकी स्थिति सुधरी है। आपको बता दे की भारत वर्ष 2015 की सूची में छठे पायदान पर था। यह निष्कर्ष ईवाई यूरोप, मध्य पूर्व, भारत और अफ्रीका (ईएमईआइए) फ्रॉड सर्वे 2017 में निकाला गया है। इस सर्वे में भारत से शामिल करीब 78 फीसद प्रतिक्रिया देने वालों ने कहा कि कारोबार में रिश्वतखोरी और भ्रष्टाचार आम बात है। भारत को इस लिहाज से यूक्रेन, साइप्रस, ग्रीस, स्लोवेनिया, दक्षिण अफ्रीका, क्रोएशिया, केन्या और हंगरी के बाद नौवें पायदान पर रखा गया है।

वर्ष 2015 के सर्वे की तुलना में भारत की रैंकिंग में सुधार बेहतर विनियामक जांच और पारदर्शिता एवं प्रशासन पर जोर का नतीजा है। ईएमईआइए फ्रॉड सर्वे रिपोर्ट कहती है कि कारोबारी माहौल में अनिश्चितता, वित्तीय लक्ष्यों को पूरा करने के लिए बढ़ता दबाव और अभूतपूर्व करियर ग्रोथ को हासिल करने की आकांक्षाएं कार्यस्थल पर अनैतिक व्यवहार अपनाने के लिए जिम्मेदार हैं।

सर्वे में 41 फीसद उत्तर देने वाले भारतीयों ने कहा कि वे खुद के करियर को आगे बढ़ाने हेतु अनैतिक कार्य करने के लिए तैयार हैं। जबकि 13 फीसद लोगों ने कहा कि वे अपना करियर या वेतन आगे बढ़ाने के लिए गलत जानकारी देने को तैयार हैं। विश्वभर में प्रतिक्रिया देने वाले प्रत्येक पांच में से एक व्यक्ति ने कहा कि वह करियर के लिए अनैतिक कदम उठाने के लिए तैयार होगा।

Provide Comments :




Related Posts :