Forgot password?    Sign UP
भारत की पहली इको-फ्रेंडली रिफाइनरी राजस्थान में स्थापित की जायेगी

भारत की पहली इको-फ्रेंडली रिफाइनरी राजस्थान में स्थापित की जायेगी





2017-04-23 : हाल ही में, राजस्थान के बाड़मेर में देश की पहली इको-फ्रेंडली रिफाइनरी स्थापित किए जाने की घोषणा की गयी। इस इको-फ्रेंडली रिफाइनरी से पेट्रोल और डीजल के उत्पादन के साथ पेट्रोकैमिकल संकुल में बिजली भी उत्पादित की जा सकेगी। राज्य में स्थापित होने वाली यह अत्याधुनिक रिफाइनरी अपनी तरह की देश में पहली रिफाइनरी है। प्रदेश सरकार द्वारा इस रिफाइनरी को लेकर एचपीसीएल के साथ एमओयू किए जाने की सम्भावना है। बाडमेर के पचपदरा में एचपीसीएल व सरकार की भागीदारी से स्थापित होने वाली नौ एमएमटीपीएल की रिफाइनरी सह पेट्रोकेमिकल संकुल देश की पहली इकोफ्रेंडली होगी।

बाडमेर के पचपदरा में स्थापित की जाने वाली इकोफ्रेंडली रिफाइनरी से उत्पादन में तो प्रदूषण कम होगा ही साथ ही इससे उत्पादित पेट्रोल और डीजल देश में अन्य रिफाइनरियों से कहीं कम प्रदूषण फैलाएगा। बाडमेर स्थित इस रिफाइनरी से क्रूड आयल से उत्पादित होने वाला पेट्रोल और डीजल बीएस-6 मानको के अनुरूप तैयार होगा।

देश में अभी तक अन्य रिफाइरियों से उत्पादित होने वाले पेट्रोल और डीजल बीएस-3 या बीएस-4 ग्रेड के हैं। बाडमेर में रिफाइनरी के साथ क्रूड आयल से निकलने वाले वेस्ट से अन्य आयल उत्पाद लगाने हेतु पेट्रोकैमिकल मशीनरीज भी स्थापित की जाएंगी। सूत्रों के अनुसार एमओयू के बाद रिफाइनरी स्थापना में कंपनी को एक से डेढ साल का समय लगेगा।

Provide Comments :





Related Posts :