Forgot password?    Sign UP
वरिष्ठ साहित्यकार अजित कुमार का निधन

वरिष्ठ साहित्यकार अजित कुमार का निधन





2017-07-19 : हाल ही में, प्रख्यात कवि एवं गद्यकार अजित कुमार का 84 वर्ष की अवस्था में लंबी बीमारी के बाद 18 जुलाई 2017 को नई दिल्ली के एक अस्पताल में निधन हो गया। उनकी अंतिम इच्छा के अनुसार उनके शरीर को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) के सुपुर्द कर दिया जाएगा। अजित कुमार का जन्म उन्नाव के जमींदार परिवार में 9 जून 1933 को हुआ। वह दिल्ली विश्वविद्यालय के किरोड़ीमल कॉलेज में हिंदी के प्राध्यापक रहे। उन्होंने कुछ समय तक कानपुर में भी अध्यापन कार्य किया। उनकी मां सुमित्रा कुमारी सिन्हा, और पत्नी स्नेहमयी चौधरी भी प्रसिद्ध कवयित्री थीं।

हिंदी साहित्य जगत के प्रमुख हस्ताक्षर अजित कुमार तारसप्तक मंडल के प्रमुख सदस्यों में गिने जाते थे। वह हरिवंश राय बच्चन के मित्र थे। हरिवंश राय बच्चन के संबंध में उन्होंने महत्वपूर्ण संस्मरण लिखा है और उनके पत्रों का भी प्रकाशन किया। उन्होंने देवीशंकर अवस्थी के साथ “कविताएं 1954” का संपादन किया। और वर्ष 1958 में अजित कुमार का पहला कविता संग्रह “अकेले कंठ की पुकार” प्रकाशित हुआ।

Provide Comments :





Related Posts :