Forgot password?    Sign UP
हरियाणा सरकार ने तृतीय और चतुर्थ श्रेणी नौकरियों में साक्षात्कार खत्म किया

हरियाणा सरकार ने तृतीय और चतुर्थ श्रेणी नौकरियों में साक्षात्कार खत्म किया





2017-09-14 : हाल ही में, हरियाणा राज्य सरकार ने राज्ये में तीसरी और चौथी श्रेणी के कर्मचारियों की भर्ती में इंटरव्यूी समाप्त कर दिया है। राज्य सरकार ने इस संबंध में कैबिनेट की बैठक में फैसला किया। इससे सरकारी नौकरियों में भ्रष्टाचार खत्म करने और पारदर्शिता लाने में मदद मिलेगी। केंद्र सरकार पूर्व में ही तृतीय व चतुर्थ श्रेणी की सरकारी नौकरियों में इंटरव्यू सिस्टम खत्म कर चुकी है। इसके बाद नौकरियों में भर्ती के समय कोई राजनेता मनमानी नहीं कर सकेगा। अब लिखित परीक्षा में मेरिट के आधार पर ही नौकरियां मिलेंगी।

हरियाणा राज्य कर्मचारी चयन आयोग द्वारा तृतीय श्रेणी के जिन पदों हेतु भर्ती प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है, उन पर यह फैसला लागू नहीं किया जाएगा। भविष्य में आयोग तृतीय व चतुर्थ श्रेणी के जितने भी पदों के लिए विज्ञापन जारी करेगा, उन सभी में इंटरव्यू प्रणाली लागू नहीं की जाएगी। और साथ ही गुजरात, पंजाब, उत्तर प्रदेश व हिमाचल प्रदेश की सरकारें भी नौकरियों में इंटरव्यू सिस्टम को खत्म कर चुकी है। नौकरियों में इंटरव्यू सिस्टम को खत्म करने का निर्णय सबसे पहले गुजरात राज्य सरकार ने लिया।

केंद्र सरकार की ओर से राज्यों पर तीसरी व चतुर्थ श्रेणी की नौकरियों में इंटरव्यू सिस्टम खत्म करने का लगातार दबाव बनाया जा रहा था। मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक में एकमत से इस पर सहमति बन गई। भाजपा कोर ग्र्रुप और मंत्री समूह की साप्ताहिक बैठकों में भी इस पर पूर्व में चर्चा की गई।

फ़िलहाल क्लास थ्री और क्लास फोर की सरकारी नौकरियों में लिखित परीक्षा व इंटरव्यू का अनुपात अभी तक 100-12 का था। यानि 100 नंबर की परीक्षा में 88 अंक लिखित परीक्षा के और 12 अंक इंटरव्यू के स्कोर किए जाते थे। वर्तमान में जारी कंडक्टर भर्ती प्रक्रिया में यह अनुपात 200-25 का है। यानी लिखित परीक्षा में 175 अंक लाने होंगे और 25 अंक इंटरव्यू के होंगे।

Provide Comments :





Related Posts :