Forgot password?    Sign UP
बद्री नारायण शर्मा राष्ट्रीय मुनाफाखोरी-रोधी प्राधिकरण के अध्यक्ष नियुक्त किये गये

बद्री नारायण शर्मा राष्ट्रीय मुनाफाखोरी-रोधी प्राधिकरण के अध्यक्ष नियुक्त किये गये





2017-11-30 : हाल ही में, केंद्र सरकार ने 28 नवम्बर 2017 को भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) के अधिकारी बद्री नारायण शर्मा को राष्ट्रीय मुनाफाखोरी-रोधी प्राधिकरण का अध्यक्ष नियुक्त किया है। कैबिनेट सचिव पीके सिन्हा की अगुआई वाली एक समिति के फैसले के बाद प्राधिकरण के अध्यक्ष और उसके सदस्यों की नियुक्ति पर सरकार की ओर से यह फैसला लिया गया है। इस प्राधिकरण के गठन के पीछे मकसद नयी अप्रत्यक्ष कर व्यवस्था में घटी दरों का लाभ उपभोक्ताओं तक पहुंचाना है। तकनीकी सदस्यों में जेसी चौहान, बिजय कुमार, सीएल महार और आर भाग्यदेवी शामिल हैं।

राष्ट्रीय मुनाफाखोरी-रोधी प्राधिकरण के बारे में :-

# केंद्र सरकार 16 नवम्बर 2017 को जीएसटी “राष्ट्रीय मुनाफाखोरी विरोधी प्राधिकरण” के गठन को मंजूरी दी थी।

# जीएसटी की दरें घटने के बावजूद अगर किसी वस्तु या सेवा के दाम कम नहीं होते हैं तो यह प्राधिकरण कार्रवाई करेगा।

# राष्ट्रीय मुनाफाखोरी-रोधी प्राधिकरण का कार्यकाल अध्यक्ष के पद संभालने की तारीख से दो साल का होता हैं।

# अध्यक्ष और चार सदस्यों की उम्र 62 साल से कम होनी चाहिए।

Provide Comments :





Related Posts :