Forgot password?    Sign UP
उच्चतम न्यायालय ने बिहार को रणजी ट्रॉफी में खेलने की मंजूरी प्रदान की

उच्चतम न्यायालय ने बिहार को रणजी ट्रॉफी में खेलने की मंजूरी प्रदान की





2018-01-05 : हाल ही में, उच्चतम न्यायालय ने 04 जनवरी 2018 को बिहार क्रिकेट एसोसिएशन को रणजी ट्राफी और अन्य राष्ट्रीय स्तर की क्रिकेट प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेने की मंजूरी दे दी। प्रधान न्यायाधीश दीपक मिश्रा के नेतृत्व वाली पीठ ने स्पष्ट किया कि बिहार को क्रिकेट खेलना चाहिए। बता दे की इससे पहले बिहार की टीम को राष्ट्रीय स्तर की प्रतियोगिताओं में हिस्सा लेने की स्वीकृति नहीं थी। उच्चतम न्यायालय ने बिहार क्रिकेट एसोसिएशन (बीसीए) के सचिव आदित्य वर्मा की याचिका पर यह फैसला सुनाया है।

उच्चतम न्यायालय के अनुसार बिहार को घरेलू स्पर्धाओं में भाग लेने देना क्रिकेट के हित में है। बिहार की टीम ने अंतिम बार वर्ष 2003-2004 में रणजी ट्रॉफी खेली थी और उस समय महेन्द्र सिंह धोनी टीम के कप्तान थे। अब बिहार की टीम अगले रणजी ट्रॉफी सेशन में हिस्सा ले सकेगी। उच्चतम न्यायालय के निर्देश के बाद अब बिहार के क्रिकेटरों का वह सपना पूरा हो गया, जो पिछले करीब दशक भर से लंबित पड़ा था।

Provide Comments :





Related Posts :