Forgot password?    Sign UP
मैरिट बोयरगेन बनी शीतकालीन ओलम्पिक में सबसे ज्यादा पदक जितने वाली खिलाड़ी

मैरिट बोयरगेन बनी शीतकालीन ओलम्पिक में सबसे ज्यादा पदक जितने वाली खिलाड़ी





2018-02-23 : हाल ही में, नॉर्वे की क्रॉस-कंट्री स्कीअर मैरिट बोयरगेन 21 फरवरी 2018 को कांस्य पदक अपने नाम करने के साथ ही शीतकालीन ओलम्पिक में सबसे ज्यादा पदक जितने वाली खिलाड़ी बन गई। उन्होंने 17 फरवरी 2018 को महिलाओं के चार गुना पांच किलोमीटर रिले में जीत दर्ज करने के बाद अपने प्रतिद्वंद्वी ओले ईनर बोर्यन्देल की बराबरी कर ली थी। मैरिट बोयरगेन ने 21 फरवरी 2018 को अपने प्रतिद्वंद्वी बोर्यन्देल को रिकॉर्ड तोड़ दिया और अब वह 14 पदकों के साथ शीतकालीन ओलम्पिक खेलों में सबसे अधिक पदक जीतने वाली खिलाड़ी बन गई है।

कौन है मैरिट बोयरगेन?

# मैरिट बोयरगेन का जन्म 21 मार्च 1980 को नॉर्वे में हुआ था।

# बोयरगेन का कांस्य पदक प्योंगचांग में जारी शीतकालीन ओलम्पिक खेलों में उनका चौथा पदक था।

# उन्होंने अपना पहला पदक वर्ष 2002 में सॉल्ट लेक में जीता था।

# वे 18 बार विश्व चैंपियन भी रह चुकी हैं।

# मैरिट बोयरगेन ने वैंकूवर वर्ष 2010 में चार स्वर्ण और एक कांस्य पदक जीते जबकि सोच्ची 2014 में वे तीन स्वर्ण पदक अपने नाम करने में कामयाब रही। उनका करियर लगभग 20 वर्ष लंबा रहा।

शीतकालीन ओलम्पिक खेल के बारे में :-

# शीतकालीन ओलम्पिक खेल एक विशेष ओलम्पिक खेल होते हैं, जिनमें में अधिकांशत: बर्फ पर खेले जाने वाले खेलों की स्पर्धा होती है।

# इन खेलों में ऑल्पाइन स्कीइंग, बायथलॉनबॉब्स्लेड, क्रॉस कंट्री स्कीइंग, कर्लिंग, फिगर स्केटिंग, फ्रीस्टाइल स्कीइंग, आइस हॉकी, ल्यूज, नॉर्डिक कंबाइंड, शॉर्ट ट्रैक स्पीड स्केटिंग, स्केलेटन, स्नोबोर्डिंग, स्पीड स्केटिंग आदि स्पर्धाएं होती हैं।

# शीतकालीन ओलम्पिक का आरंभ वर्ष 1924 में हुआ माना जाता है, किन्तु इसी तरह के खेल वर्ष 1901 से वर्ष 1926 के बीच यूरोप में स्वीडन में आयोजित कराए जाते थे जिन्हें नॉर्डिक गेम्स कहा जाता था।

Provide Comments :





Related Posts :