Forgot password?    Sign UP
भारतीय आर्किटेक्ट बालकृष्ण दोशी ‘प्रित्जकर’ पुरस्कार से सम्मानित किये गये

भारतीय आर्किटेक्ट बालकृष्ण दोशी ‘प्रित्जकर’ पुरस्कार से सम्मानित किये गये





2018-03-09 : हाल ही में, भारत के मशहूर आर्किटेक्ट बालकृष्ण दोशी को 07 मार्च 2018 को ‘प्रित्जकर’ पुरस्कार के लिए चुना गया है। पाठकों को बता दे की यह पुरस्कार आर्किटेक्चर क्षेत्र में बेहतरीन कार्य करने वालों को दिया जाता है। और बालकृष्ण दोशी प्रित्जकर पुरस्कार पाने वाले पहले भारतीय हैं। बालकृष्ण दोशी को यह पुरस्कार मई के महीने में टोरंटो में दिया जाएगा। प्रित्जकर पुरस्कार को वास्तुकला की दुनिया का नोबेल पुरस्कार कहा जाता है। इस पुरस्कार की स्थापना वर्ष 1979 में की गई थी।

बालकृष्ण दोशी के बारे में :-

# बालकृष्ण दोशी का जन्म 26 अगस्त 1927 को पुणे में हुआ था।

# बालकृष्ण दोशी ने वर्ष 1947 में मुंबई के सर जेजे स्कूल ऑफ आर्किटेक्चर से पढ़ाई की।

# उन्होंने आधुनिक वास्तुकला के ख्यातिप्राप्त स्विस-फ्रेंच आर्किटेक्चर ली करबुसिएर के साथ भी काम किया।

# उन्होंने वर्ष 1955 में अपने स्टूडियो वास्तु-शिल्प की स्थापना की।

# उन्होंने लुईस काह्न और अनंत राजे के साथ मिलकर अहमदाबाद के इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट के कैंपस को डिजायन किया।

Provide Comments :





Related Posts :