Forgot password?    Sign UP
राजस्थान सरकार ने जयपुर में

राजस्थान सरकार ने जयपुर में "महिला दूध बैंक (Woman Milk Bank)" जीवनधारा की शुरुआत की |





0000-00-00 : 31 मार्च 2015 को राजस्थान सरकार ने जयपुर में महिला दूध बैंक जीवनधारा की शुरुआत की है | इसका उद्घाटन स्वास्थ्य मंत्री राजेन्द्र राठौर ने किया | तथा इसका उद्देश्य राजस्थान में उच्च शिशु मृत्यु दर को रोकना है | राज्य सरकार ने इस बैंक का शुभारंभ नार्वे की सरकार और जेके लॉन अस्पताल के साथ मिलकर किया है | यह बैंक स्तनपान कराने वाली माताओं द्वारा दान किए गए दूध को जमा करेगा जिसका इस्तेमाल वंचित शिशुओं के लिए किया जा सकेगा | दान देने की इच्छुक माताओं से मिला यह दूध शिशुओं को मुफ्त में दिया जाएगा | दान देने की प्रक्रिया दाताओं की पूरी जांच और एचआईवी, सिफिल्स, हेपेटाइटिस और अन्य बीमारियों की चिकित्सीय जांच के बाद ही शुरु की जाएगी | इसके बाद दूध को पाश्चुरीकृत किया जाएगा जिसमें करीब तीन माह का वक्त लगता है | पहला सरकारी महिला दूध बैंक कोलकाता में खोला गया था और जयपुर इस श्रृंखला का दूसरा है | हालांकि राज्य में पहला महिला दूध बैंक गैर सरकारी संगठन (एनजीओ) उदयपुर के एक सरकारी अस्पताल में शुरु किया गया था | नमूना पंजीकरण प्रणाली (एसआरएस) 2012 के अनुसार राजस्थान में शिशु मृत्यु दर प्रति 1000 जन्म पर 49 फीसदी है और इसकी वजह समय पर माता के दूध की अनुपलब्धता है |

Provide Comments :





Related Posts :