Forgot password?    Sign UP
बायोकॉन को जापान में इंसुलिन ग्लेरगीन बेचने की मंजूरी मिली|

बायोकॉन को जापान में इंसुलिन ग्लेरगीन बेचने की मंजूरी मिली|





2016-04-01 : हाल ही में, 28 मार्च 2016 को बायोकॉन लिमिटेड ने घोषणा की कि जापान के स्वास्थ्य, श्रम एवं कल्याण मंत्रालय (MHLW) ने उसके जैवसमान इंसुलीन ग्लेरगीन को मंजूरी दे दी है। इंसुलिन ग्लेरगीन को यह मंजूरी बायोकॉन द्वारा जापान में आरंभिक विकास और 250 से भी अधिक टाइप 1 मधुमेह के मरीजों पर अपने साझेदार फ्यूजीफिल्म फार्मा का। लिमि। (FFP) के साथ मिलकर स्थानीय फेज नैदानिक अध्ययन को सफलतापूर्वक पूरा करने पर दी गई है।

उत्पाद जापान में 2017 से मिलने लगेगा। यह डिस्पोजेबल पेन के रूप में होगा जिसमें 100.U इंसुलिन ग्लेरगीन का 3 मिली होगा। फिलहाल, यह भारत में बासालॉग वन नाम के ब्रांड से उपलब्ध है। इस शुरुआत के साथ ही कंपनी का लक्ष्य जापान के 144 मिलियन अमेरिकी डॉलर के ग्लेरगीन बाजार में महत्वपूर्ण हिस्से पर कब्जा करना है। उत्तर अमेरिका और यूरोप के बाहर यह दूसरा सबसे बड़ा है और काफी हद तक डिस्पोजेबल पेन का इसमें प्रभुत्व है।

बायोकॉन लिमि. के बारे में :-

# यह भारत का सबसे बड़ा और पूर्ण रुप से एकीकृत, नवाचार–नीत जैवफार्मास्युटिकल कंपनी है।

# बेंगलुरु की यह कंपनी 100 से ज्यादा देशों में अपने ग्राहकों को सेवा मुहैया करा रही है।

# इसके उत्पाद ऑटोइम्युन, मधुमेह और कैंसर जैसे पुरानी बीमारियों पर फोकस करते हैं।

# इसे सफलता पूर्वक विकसित किया है और नवीन बायोलॉजिक्स, बायोसिमिलर्स, विभेदित छोटे कण और सस्ते पुनः संयोजक मानव इंसुलिन की व्यापक रेंज ली है और प्रयोगशाला से बाजार में इसी अनुरुप सामान उपलब्ध कराया है।

# इसके पास विकास के अलग– अलग चरणों में बायोसिमिलर्स और नई बायोजॉक्सि का समृद्ध पाइपलाइ है। इसमें उच्च क्षमता वाले मौखिक इंसुलीन भी हैं।

Provide Comments :





Related Posts :