Forgot password?    Sign UP
ISRO ने स्वदेशी नेविगेशन सिस्टम IRNSS-1G सेटेलाइट लॉन्च करके इतिहास रचा|

ISRO ने स्वदेशी नेविगेशन सिस्टम IRNSS-1G सेटेलाइट लॉन्च करके इतिहास रचा|





2016-04-28 : हाल ही में, भारतीय अन्तरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) ने 28 अप्रैल 2016 को पीएसएलवी-सी33 के साथ भारत के सातवां भारतीय क्षेत्रीय नौवहन उपग्रह प्रणाली (आईआरएनएसएस 1जी) को सब जियोसेंक्रोनौस ट्रान्सफर ऑर्बिट (सब-जीटीओ) में प्रक्षेपित किया। इसे श्रीहरिकोटा स्थित सतीश धवन स्पेस सेंटर से फर्स्ट लांच पैड (एफएलपी) से छोड़ा गया।

पीएसएलवी- सी33 ने 1,425 किलोग्राम वजनी आईआरएनएसएस-1जी उपग्रह 497.8 किलोमीटर की ऊंचाई पर कक्षा में स्थापित किया। पीएसएलवी ठोस और तरल ईंधन द्वारा संचालित चार चरणों/इंजन वाला प्रक्षेपण यान है। यह सैटेलाइट आईआरएनएसएस-1जी (भारतीय क्षेत्रीय नौवहन उपग्रह प्रणाली-1जी) के सात उपग्रहों के समूह का हिस्सा है। इससे भारत रूस और अमेरिका जैसे उन समूह देशों में शामिल हो गया है जिनके पास अपने नेविगेशन सिस्टम हैं।

IRNSS-1G के बारे में :-

यह इस श्रेणी का सातवां उपग्रह है। इससे पहले आईआरएनएसएस-1ए, 1बी, 1सी, 1डी, 1ई एवं 1एफ को पीएसएलवी-सी 22, पीएसएलवी-सी 24, पीएसएलवी-सी 26, पीएसएलवी-सी 27, पीएसएलवी-सी 31 एवं पीएसएलवी-सी 32 द्वारा जुलाई 2013, अप्रैल 2014, अक्टूबर 2014 , मार्च 2015, जनवरी 2016 एवं मार्च 2016 में प्रक्षेपित किया गया। अन्य आईआरएनएसएस सेटेलाईटों की भांति यह भी अन्य आईआरएनएसएस की तरह कार्य करता है।

Provide Comments :





Related Posts :