Forgot password?    Sign UP
अमेरिकी इंजिनियर फ्रांसिस अर्नोल्ड, मिलेनियम टेक्नोलॉजी प्राइज जीतने वाली प्रथम महिला बनीं|

अमेरिकी इंजिनियर फ्रांसिस अर्नोल्ड, मिलेनियम टेक्नोलॉजी प्राइज जीतने वाली प्रथम महिला बनीं|





2016-05-26 : हाल ही में, टेक्नोलॉजी एकेडमी फ़िनलैंड (टीएएफ) ने 24 मई 2016 को अमेरिकी खोजकर्ता फ्रांसिस अर्नोल्ड को वर्ष 2016 का मिलेनियम टेक्नोलॉजी पुरस्कार प्रदान किया। इस द्विवार्षिक सम्मान में 1 मिलियन यूरो पुरस्कार स्वरुप दिए जाते हैं। पिछले 12 वर्षों के इतिहास में अर्नोल्ड यह पुरस्कार प्राप्त करने वाली पहली महिला हैं। बायोकेमिकल इंजिनियर अर्नोल्ड को उनके अविष्कार, निर्देशित विकास के लिए दिया गया। उन्होंने प्रयोगशाला में प्राकृतिक रूप से प्रोटीन बनाने में सफलता प्राप्त की।

मिलेनियम टेक्नोलॉजी पुरस्कार के बारे में :-

# यह टेक्नोलॉजी क्षेत्र में दिया जाने वाला विश्व का सबसे प्रतिष्ठित पुरस्कार है।

# इसे प्रत्येक दो वर्ष में एक बार टेक्नोलॉजी एकेडमी फ़िनलैंड द्वारा प्रदान किया जाता है।

# इसके लिए फिनिश इंडस्ट्री एवं फिनिश स्टेट द्वारा संयुक्त रूप से फण्ड तैयार किया गया।

# फ़िनलैंड के राष्ट्रपति इस पुरस्कार को प्रदान करते हैं।

# इसका उद्देश्य फ़िनलैंड में तकनीकी रिसर्च एवं उच्च-तकनीकी विकास करना है।

# इसकी शुरुआत वर्ष 2004 में की गयी।

# वर्ष 2014 में स्टुअर्ट पार्किन इस पुरस्कार के विजेता थे।

Provide Comments :





Related Posts :