Forgot password?    Sign UP
रानु लंगथासा असम में NCHAC की पहली महिला अध्यक्ष नियुक्त की गयी|

रानु लंगथासा असम में NCHAC की पहली महिला अध्यक्ष नियुक्त की गयी|





2016-06-15 : हाल ही में, रानु लंगथासा को 13 जून 2016 को सर्वसम्मति से उत्तरी कछार हिल्स स्वायत्त परिषद (एनसीएचएसी) का अध्यक्ष चुना गया। इससे वह 1950 से लेकर अब तक इस परिषद की पहली महिला अध्यक्ष बनीं। उत्तरी कछार हिल्स स्वायत्त परिषद (एनसीएचएसी) एक संक्षिप्त राज्य के रूप में भी व्यक्त किया जा सकता है क्योंकि इसमें लघु विधानसभा, कार्यपालिका और न्यायपालिका की तरह एक सरकार के सभी अंग मौजूद हैं।

संविधान की छठी अनुसूची के अनुसार 29 अप्रैल 1952 को दीमा हासो जिला परिषद् एक स्वायत्त परिषद के रूप में उभरा। इसके पास भूमि, राजस्व, प्राथमिक शिक्षा, प्रथागत कानून आदि पर पूर्ण अधिकार था। यह आरंभ में परिषद् 12 निर्वाचित सदस्यों, 4 नामांकित सदस्यों एवं एक सचिव सहित स्वायत्त संस्था के रूप में कार्यरत था।

उत्तरी कछार हिल्स के स्वायत्त परिषद घोषित किये जाने से पहले डोइमा हासो जिला दिमासा शासन के अधीन था। ब्रिटिश काल से पूर्व इसका पूरे कछार क्षेत्र में आधिपत्य स्थापित था, इसमें नागांव जिला एवं दीमापुर से लेकर नीचू गार्ड तक का क्षेत्र शामिल थे। वर्ष 1830 में दिमासा के राजा महाराजा गोविंदा चंद्र नारायण की हत्या के बाद 15 अगस्त 1832 को दिमासा साम्राज्य, ब्रिटिश साम्राज्य के अधीन हो गया।

Provide Comments :





Related Posts :