Forgot password?    Sign UP
स्टैनफोर्ड शोधकर्ताओं ने एक मिनट में चार्ज होने वाली स्मार्टफ़ोन बैटरी का निर्माण किया |

स्टैनफोर्ड शोधकर्ताओं ने एक मिनट में चार्ज होने वाली स्मार्टफ़ोन बैटरी का निर्माण किया |





0000-00-00 : स्टैनफोर्ड शोधकर्ताओं ने एक ऐसी स्मार्टफ़ोन बैटरी बनाई है जो केवल एक मिनट में चार्ज हो सकती है | यह परियोजना रिपोर्ट 6 अप्रैल 2015 को प्रकाशित हुई | स्टैनफोर्ड विश्वविद्यालय के रसायन शास्त्र के प्रोफेसर होग्ज़ी डाई इस परियोजना के प्रमुख शोधकर्ता हैं | यह पहली एल्यूमीनियम बैटरी है जो कम समय में चार्ज, लंबे समय तक चलने वाली तथा कम कीमत में उपलब्ध होगी | शोधकर्ताओं ने इसमें एल्यूमीनियम एनोड, एक ग्रेफाइट कैथोड तथा एक तरल इलेक्ट्रोलाइट को पॉलीमर-कोटेड पाउच में रखा गया | इलेक्ट्रोलाइट पूर्णतया सुरक्षित है क्योंकि यह कमरे के तापमान पर तरल अवस्था में रहता है | एक एल्यूमीनियम-इओन बैटरी में आमतौर पर दो इलेक्ट्रोड, एल्यूमीनियम का बना एक नेगेटिव एनोड तथा एक पॉजिटिव कैथोड रखे जाते हैं | तथा एल्यूमीनियम-इओन बैटरी स्मार्टफ़ोन में प्रयोग की जाने वाली लिथियम- इओन एल्कालाइन बैटरी का स्थान ले सकती है | एल्यूमिनियम बैटरी के बारे मैं : एल्यूमिनियम बैटरी का प्रयोग विद्युत् ग्रिड में अक्षय ऊर्जा के संचय के लिए किया जा सकता है | एवं इस बैटरी को हजारों बार रिचार्ज किया जा सकता है | ग्रिड में संचयन के लिए विशाल लिथियम-इओन बैटरी के निर्माण की कल्पना भी नहीं की जा सकती | एल्यूमीनियम-इओन टेक्नोलॉजी पर्यावरण के अनुकूल है | एल्यूमिनियम अपनी कम लागत, कम ज्वलनशीलता तथा उच्च भंडारण क्षमता के कारण भी प्रसिद्ध है | तथा शोधकर्ताओं को एल्यूमीनियम-इओन बैटरी के निर्माण पर लम्बे समय तक शोध करने के उपरान्त सफलता हासिल हुई |

Provide Comments :




Related Posts :