Forgot password?    Sign UP
अभिनव बिंद्रा ने निशानेबाजी से संन्यास लेने की घोषणा की

अभिनव बिंद्रा ने निशानेबाजी से संन्यास लेने की घोषणा की





2016-09-05 : भारत को ओलिंपिक खेलों में एकमात्र व्यक्तिगत स्वर्ण पदक दिलाने वाले दिग्गज निशानेबाज अभिनव बिंद्रा ने 4 सितम्बर 2016 को संन्यास लेने की घोषणा की। बिंद्रा हाल ही में रियो ओलिंपिक में छोटे अंतर से पदक चूक गए थे और रियो में चौथे स्थान पर रहे। अभिनव बिंद्रा 10 मीटर एयर रायफल स्पर्धा में भारत के एक प्रमुख निशानेबाज हैं। अभिनव बिंद्रा का जन्म देहरादून में 28 सितंबर 1983 को हुआ था। वर्ष 2008 के बीजिंग ओलंपिक खेलों की व्यक्तिगत स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीतकर व्याक्तिगत स्वेर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बनें।

अभिनव बिंद्रा को वर्ष 2009 में भारत सरकार द्वारा खेल के क्षेत्र में पद्म भूषण से सम्मानित किया गया था। अभिनव बिंद्रा को निशानेबाजी में उनके योगदान के लिए वर्ष 2001 में देश के सर्वोच्च खेल पुरस्कार राजीव गांधी खेल रत्न से सम्मानित किया गया था। अभिनव बिंद्रा ने वर्ष 2001 के म्यूनिख कप में कांस्य पदक जीता। वे वर्ष 1998 के राष्ट्रमंडलीय खेलों के सबसे युवा निशानेबाज थे।

बिंद्रा 15 साल की उम्र से निशानेबाजी करना प्रारंभ किया था। वे वर्ष 2004 में एथेंस ओलिम्पिक में अभिनव बिंद्रा ने रिकॉर्ड तो कायम किया, लेकिन पदक जीतने से चूक गए। अभिनव बिंद्रा ने भारत को किसी भी ओलंपिक का पहला एकल स्वर्ण पदक दिलाया था।

Provide Comments :





Related Posts :