Forgot password?    Sign UP
नासा ने इलेक्ट्रिक विमान जीएल-10 के प्रोटोटाइप का सफल परीक्षण किया |

नासा ने इलेक्ट्रिक विमान जीएल-10 के प्रोटोटाइप का सफल परीक्षण किया |





0000-00-00 : नेशनल एयरोनॉटिक्स एंड स्पेस एडमिनिस्ट्रेशन (नासा) ने विद्युत् चालित 10-इंजन के प्रोटोटाइप ग्रीस्ड लाइटिंग (जीएल-10) का सफलतापूर्वक परीक्षण किया गया है | इसकी जानकारी नासा ने 1 मई 2015 को दी गयी | ग्रीस्ड लाइटिंग (जीएल-10) की मुख्य विशेषताएं इस प्रकार है : (i) यह रिमोट चालित विमान नासा द्वारा विज्ञान आधारित अनुसंधानों के लिए बनाया गया है, साथ ही इसका उपयोग प्रोद्योगिकी विकास के विभिन्न कार्यों में भी किया जायेगा | (ii) यह विमान 10 इंजनों की सहायता से उड़ता है, जिनमें आठ इसके विंग्स पर तथा दो इसके पिछले भाग में लगाये गए हैं | (iii) इसका अधिकतम वजन 62 पाउंड (28.1 किलोग्राम) है तथा उड़ान भरते समय इसकी चौड़ाई 10 फीट होती है | (iv) यह हेलीकॉप्टर की भांति उड़ान भर सकता है तथा किसी विमान की तरह हवा में उड़ सकता है | (v) यह वातावरण में ध्वनि पप्रदूषण भी नहीं करता क्योंकि इसकी आवाज़ किसी घास काटने की मशीन से भी कम है |

Provide Comments :





Related Posts :