Forgot password?    Sign UP
केंद्र सरकार ने संकटग्रस्त महिलाओं के लिए एनईआरएस लागू करने का निर्णय लिया गया |

केंद्र सरकार ने संकटग्रस्त महिलाओं के लिए एनईआरएस लागू करने का निर्णय लिया गया |





0000-00-00 : केंद्रीय गृह मंत्रालय ने संकटग्रस्त महिलाओं को सहायता प्रदान करने के लिए 15 मई 2015 को एनईआरएस (राष्ट्रव्यापी आपातकालीन प्रतिक्रिया प्रणाली) लागू करने का निर्णय लिया गया है | इस विषय में मंत्रालय ने आईटी सेवा प्रदाताओं से प्रस्ताव आमंत्रित किये हैं | और दिसम्बर 2012 में दिल्ली में हुए जघन्य बलात्कार हादसे के उपरांत एनईआरएस की योजना यूपीए सरकार द्वारा बनायी गयी थी | जिससे एनईआरएस के तहत किसी भी संकटग्रस्त महिला द्वारा कॉल किये जाने पर पुलिस को तुरंत एक्शन लेना होगा | और इससे राज्यों में पुलिस द्वारा प्रयोग किये जाने वाली आपातकालीन प्रणाली में भी सकारात्मक परिवर्तन देखने को मिलेगा |
यह इस प्रकार काम करेगा :
यह संयुक्त राज्य अमेरिका के 911 के भांति कार्य करेगा | इसमें एक कॉल सेंटर का निर्माण किया जाएगा जहाँ से सभी कॉल्स को मॉनिटर किया जायेगा | सबसे पहले कॉलर की स्थान का पता लगाया जायेगा | इसके बाद आपातकालीन स्थिति की गंभीरता का पता लगाकर इस कॉल को तुरंत कॉल डिस्पैचर के पास भेज दिया जायेगा | और कॉल डिस्पैचर घटना स्थल के पास मौजूद पुलिस वैन का पता लगाकर उसे घटना स्थल पर जल्द पहुंचने के लिए कहेगा | तथा कॉल सेंटर में लगे उपकरण लैंडलाइन, मोबाइल अथवा सेंसर माध्यम कॉल करने वाले व्यक्ति के स्थान का पता स्वयं लगा लेंगे | एवं प्रणाली को और बेहतर बनाने के लिए पुलिस की सभी गाड़ियों में जीपीएस प्रणाली लगाई जाएगी |

Provide Comments :





Related Posts :