Forgot password?    Sign UP
सौभाग्य योजना का शुभारम्भ किया गया

सौभाग्य योजना का शुभारम्भ किया गया





2017-09-26 : हाल ही में, PM नरेंद्र मोदी ने पंडित दीनदयाल उपाध्याय की जयंती के अवसर पर 25 सितंबर, 2017 को नई दिल्ली में 1, 6320 करोड़ रूपये के लागत से “प्रधान मंत्री सहज बिजली हर घर योजना” – सौभाग्य का शुभारंभ किया। इस योजना के माध्यम से, सरकार 2018 के अंत तक सभी घरों को बिजली की आपूर्ति करेगी। यह योजना 31-दिसंबर 2018 तक ‘हर घर को प्रकाश’ के लक्ष्य को हासिल करने में मदद करेगी।

सौभाग्य योजना के बारे में :-

# यह सुविधा योजना 16,320 करोड़ रुपये के बजट है, जिसमें फंडिंग का विभाजन निम्नानुसार है: 60% भारत सरकार अनुदान, 10% उपयोगिता / राज्य योगदान, 30% ऋण।

# मुफ्त बिजली की पात्रता 2011 की जाति जनगणना और सामाजिक-आर्थिक के आधार पर पहचान की जाएगी।

# इस स्कीम के अनुसार जो परिवार इसके मुफ्त बिजली के मानदंडों के तहत नहीं आयेंगे, उन परिवारों को 500 रुपये की राशि पर बिजली प्रदान की जाएगी। यह 10 किश्तों में बिजली बिल के माध्यम से वसूल की जायेगी।

# सुविधा योजना के तहत लाभार्थियों की पहचान और पंजीकरण करने के लिए, एक मोबाइल ऐप का उपयोग किया जाएगा।

# पहाड़ी या आदिवासी क्षेत्रों जैसे दूरदराज के क्षेत्रों में परिवार जहां बिजली प्रदान करना संभव नहीं है, को 200 से 300 Wp (वाट शिखर) के सौर ऊर्जा पैक के साथ प्रदान किया जाएगा।

# इसमें पांच एलईडी लाइट, एक डीसी प्रशंसक, एक डीसी पावर प्लग शामिल हैं। इसमें 5 वर्षों के लिए मरम्मत और रखरखाव (आर एंड एम) भी शामिल है।

# सौभाग्य योजना के कार्यान्वयन के लिए ग्रामीण विद्युतीकरण निगम लिमिटेड (आरईसी) को नोडल एजेंसी के रूप में नियुक्त किया गया है।

# यह योजना सभी ग्रामीण और शहरी परिवारों को अंतिम मील बिजली कनेक्टिविटी प्रदान करना है।

# यह योजना विद्युत उपकरणों जैसे कि ट्रांसफार्मर, मीटर और तारों पर सब्सिडी प्रदान करेगी।

# योजना का लक्ष्य सभी के लिए शक्ति प्राप्त करने के केंद्र के लक्ष्य को पुन: लागू करना है।

Provide Comments :




Related Posts :