Forgot password?    Sign UP
उत्तराखंड के मदरसों में अगले शैक्षणिक सत्र से संस्कृत पढ़ाई जाएगी

उत्तराखंड के मदरसों में अगले शैक्षणिक सत्र से संस्कृत पढ़ाई जाएगी





2018-01-15 : उत्तराखंड मदरसा शिक्षा बोर्ड (यूएमईबी) की एक समिति द्वारा समूचे राज्य के मदरसों में संस्कृत को वैकल्पिक विषय के रूप में पढ़ाये जाने के प्रस्ताव को मंजूरी प्रदान की गयी है। इसके साथ ही कंप्यूटर साइंस को भी वैकल्पिक विषय के रूप में पढ़ाए जाने को मंजूरी प्रदान की गयी। राज्य के मदरसों में वैकल्पिक विषय के तौर पर गणित, विज्ञान, आयुष और समाज विज्ञान की पढ़ाई होती है। यूएमईबी के उप रजिस्ट्रार अखलाक अहमद ने बताया कि बोर्ड की छह सदस्यीय समिति ने संस्कृत और कंप्यूटर विज्ञान को वैकल्पिक विषयों के तौर पर शामिल करने के प्रस्ताव को स्वीकार कर लिया।

निर्णय से सम्बंधित तथ्य इस प्रकार है...

# यह निर्णय सामाजिक संस्था मदरसा वेलफेयर सोसायटी ऑफ उत्तराखंड (एमडब्ल्यूएसयू) के अनुरोध के बाद आया है।

# एमडब्ल्यूएसयू के द्वारा राज्य भर में 207 मदरसे संचालित किए जाते हैं, जिसमें 25 हजार बच्चे शिक्षा ग्रहण करते हैं। इस संस्था ने कुछ दिनों पहले ही सरकार से अनुरोध किया था कि मदरसों में भी बच्चों को अन्य भाषाओं की तरह संस्कृत पढ़ाई जाए।

# वर्तमान में राज्य के 297 रजिस्टर्ड मदरसों में छात्रों को गणित, विज्ञान, आयुष और सामाजिक विज्ञान ही वैकल्पिक विषय के तौर पर पढ़ाया जाता है।

Provide Comments :





Related Posts :