Forgot password?    Sign UP
विमान के पंखों से ऊर्जा स्रोत का आविष्कार करने वाले भारतीय छात्र जर्मनी में सम्मानित किये गये |

विमान के पंखों से ऊर्जा स्रोत का आविष्कार करने वाले भारतीय छात्र जर्मनी में सम्मानित किये गये |


Advertisement :


0000-00-00 : पांच भारतीय छात्रों की एक टीम को एयरबस द्वारा 27 मई 2015 को जर्मनी स्थित हैम्बर्ग में सम्मानित किया गया है | उन्हें "फ्लाई योर आइडियाज़" प्रतियोगिता का विजेता घोषित किये जाने पर ट्रॉफी तथा 30,000 यूरो से सम्मानित किया गया | यह पुरस्कार उनके आविष्कार के लिए दिया गया जिसके तहत उन्होंने विश्व का पहला ऐसा ऊर्जा स्रोत तैयार किया है जिसमें विमान के विंग्स (पंख) की वाइब्रेशन (कंपन) द्वारा उर्जा प्राप्त की जा सकती है | इससे विमान की विद्युत् ऊर्जा आवश्यकताओं को पूरा किया जा सकता है | तथा एयरबस द्वारा आयोजित "फ्लाई योर आइडियाज़" प्रतियोगिता में 104 देशों के 3,700 छात्रों की 518 टीमों ने भाग लिया जिसमें भारतीय छात्रों ने प्रथम स्थान हासिल किया |

यह प्रतियोगिता एयरबस एवं यूनेस्को के सहयोग से आयोजित की गयी | इस अविष्कार के आधार पर विमानों में उर्जा बचत पर विशेष ध्यान दिया जा सकता है | इस टीम में भाग लेने वाले सभी छात्र अलग-अलग देशों में रह रहे हैं, वे भारतीय प्रोद्योगिकी संस्थान बंगलौर, सिटी यूनिवर्सिटी लंदन, जॉर्जिया टेक यूनिवर्सिटी अमेरिका तथा डेल्फ यूनिवर्सिटी ऑफ़ टेक्नोलॉजी नीदर्सलैंड में पढने वाले भारतीय छात्र हैं |
उन छात्रों के नाम इस प्रकार है :

Provide Comments :


Advertisement :