Forgot password?    Sign UP
भारत ने फ्रांस के साथ गगनयान मिशन के लिए समझौता किया

भारत ने फ्रांस के साथ गगनयान मिशन के लिए समझौता किया





2018-09-07 : हाल ही में, भारत और फ्रांस ने अंतरिक्ष तकनीक क्षेत्र में सहयोग बढ़ाते हुए 06 सितंबर 2018 को गगनयान पर साथ मिलकर काम करने के लिए एक समझौते पर हस्ताक्षर किये। इस समझौते के पश्चात् भारत और फ्रांस ने गगनयान के लिए एक कार्यकारी समूह की घोषणा भी की। फ्रांसीसी अंतरिक्ष एजेंसी के अध्यक्ष जीन येव्स ली गॉल द्वारा बेंगलुरु स्पेस एक्सपो के छठे संस्करण के दौरान घोषणा की गयी। भारत की 2022 से पहले अंतरिक्ष में तीन मनुष्यों को भेजने की योजना है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्वतंत्रता दिवस पर इसरो के पहले मानवयान मिशन की घोषणा की थी।

गगनयान मिशन के उद्देश्य की अगर बात करे तो इससे देश में विज्ञान और प्रौद्योगिकी के स्तर में वृद्धि होगी। और एक राष्ट्रीय परियोजना जिसमें कई संस्थान, अकादमिक और उद्योग शामिल हैं। इसके साथ ही औद्योगिक विकास में सुधार। सामाजिक लाभ के लिए प्रौद्योगिकी का विकास। और अंतरराष्ट्रीय सहयोग में सुधार होगा.

गगनयान के बारे में :-

# भारत की वर्ष 2022 से पहले, तीन मनुष्यों को अंतरिक्ष में भेजने की योजना है जिसे गगनयान नाम दिया गया है।

# भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन का मिशन महत्वपूर्ण है क्योंकि यह रूस, अमेरिका और चीन के बाद भारत को दुनिया के चौथे देश की फेहरिस्त में शामिल करेगा जिसने कोई मानवयुक्त यान अंतरिक्ष में भेजा है।

Provide Comments :





Related Posts :