Forgot password?    Sign UP
पाकिस्तान वर्ष 2022 में भेजेगा पहला अंतरिक्ष यात्री

पाकिस्तान वर्ष 2022 में भेजेगा पहला अंतरिक्ष यात्री





2018-10-27 : हाल ही में, पाकिस्तान चीन की मदद से वर्ष 2022 में पहली बार किसी पाकिस्तानी को अंतरिक्ष में भेजेगा। इसकी घोषणा पाकिस्तान के सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने 25 अक्टूबर 2018 को की। पाकिस्तान के पहले अंतरिक्ष मिशन की योजना 2022 के लिए बनाई गई है। ध्यान दे की भारत ने वर्ष 2022 में ही अपने अंतरिक्ष यान से पहले भारतीय को अंतरिक्ष में भेजने की योजना बनाई है। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने स्वअतंत्रता दिवस 2018 के मौके पर इस बात की घोषणा की थी वर्ष 2022 में भारत की ओर से मानवयान को भेजा जाएगा। भारत दुनिया का चौथा ऐसा देश होगा जो इंसान को अंतरिक्ष पर भेजेगा। यह भी ध्यान दे की चीन ने वर्ष 2003 में पहला मानव अंतरिक्ष मिशन लॉन्चग किया था। इस लॉन्चभ के साथ ही वह दुनिया का तीसरा ऐसा देश बन गया था जिसने मानवयुक्त अंतरिक्ष यात्रा को सफलतापूर्वक अंजाम दिया था। चीन से पहले रूस और अमेरिका ऐसा कर चुके हैं।

पाकिस्ता न और चीन दोनों के बीच रक्षा संबंध पहले से ही काफी अच्छेर है। साथ ही पाकिस्तायन, चीनी मिलिट्री उपकरणों का सबसे बड़ा खरीददार भी है। पाकिस्तान ने चीनी प्रक्षेपण यान की मदद से दो उपग्रहों को पृथ्वी की कक्षा में भेजा था। दोनों उपग्रहों का निर्माण पाकिस्तान में किया गया था। पाकिस्तांन ने चीनी लॉन्ग मार्च (एलएम-2सी) रॉकेट को जियूक्यू्आन सैटेलाइट लॉन्च सेंटर से लॉन्च किया था। यह सेंटर चीन में गोबी के रेगिस्तागन में स्थित है। इसके अलावा एक और सैटेलाइट जो कि रिमोट सेंसिंग सैटेलाइट पीआरएसएस1 था उसे भी लॉन्च किया गया था।

चीन की मदद से लॉन्चा हुए पाक के दूसरा टेस्टर पाक-टेस-1ए था। इस सैटेलाइट को सुपारको की ओर से डेवलप किया गया था। इस सैटेलाइट की वजह से पाकिस्तामन के सैटेलाइट तैयार करने की क्षमताओं में इजाफ हुआ था। इसके बाद पाकिस्ता्न को मौसम, पर्यावरण और कृषि आधारित जानकारियों के लिए दूसरे कमर्शियल सैटेलाइट्स पर निर्भर नहीं रहना पड़ा। इन सैटेलाइट को चीन भेजा गया था क्योंाकि पाकिस्ताेन के पास किसी भी तरह का कोई सैटेलाइट लॉन्चन व्हीनकल नहीं है।

Provide Comments :





Related Posts :