Forgot password?    Sign UP
64वें फिल्मफेयर अवार्ड दिए गये, देखें पूरी सूची...

64वें फिल्मफेयर अवार्ड दिए गये, देखें पूरी सूची...





2019-03-25 : हाल ही में, बॉलीवुड फिल्मों के लिए दिए जाने वाले सबसे प्रसिद्ध पुरस्कार फिल्मफेयर अवार्ड्स 2019 मुंबई में प्रदान किये गये। यह पुरस्कार 20 से अधिक श्रेणियों में दिए गये हैं। इस वर्ष फिल्म ‘राज़ी’ के लिए आलिया भट्ट ने सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री का पुरस्कार जीता, वहीं रणबीर कपूर ने ‘संजू’ के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का पुरस्कार प्राप्त किया है। ध्यान दे की फिल्मफेयर पुरस्कार समारोह भारतीय सिनेमा के इतिहास की सबसे पुरानी और प्रमुख घटनाओं में से एक रही है। इसकी शुरुआत सबसे पहले 1954 में हुई जब राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार की भी स्थापना हुई थी।

64वें फिल्मफेयर पुरस्कारों की सूची इस प्रकार है....

# बेस्ट एक्टर (पुरुष) - रणबीर कपूर (संजू)

# बेस्ट एक्टर (महिला) - आलिया भट्ट (राज़ी)

# क्रिटिक्स कैटेगरी बेस्ट एक्टर (पुरुष) - रणवीर सिंह(पद्मावत), आयुष्मान खुराना (अँधाधुन)

# बेस्ट डायरेक्टर - मेघना गुलज़ार (राज़ी)

# क्रिटिक्स कैटेगरी बेस्ट एक्टर (महिला) - नीना गुप्ता (बधाई हो )

# पॉपुलर च्वायस कैटेगरी बेस्ट फिल्म - राज़ी

# बेस्ट स्टोरी - अनुभव सिन्हा (मुल्क)

# बेस्ट स्क्रीनप्ले - अंधाधुन

# बेस्ट डायलॉग - बधाई हो

# क्रिटिक्स कैटेगरी में बेस्ट फिल्म - अँधाधुन

# बेस्ट सपोर्टिंग एक्टर (महिला) - सुरेखा सिकरी (बधाई हो)

# बेस्ट एक्टर इन सपोर्टिंग रोल - विक्की कौशल (संजू) गजराज राव (बधाई हो)

# बेस्ट डेब्यू (पुरुष) - ईशान खट्टर (बियाण्ड द क्लाउड्स)

# बेस्ट डेब्यू (महिला) - सारा अली खान (केदारनाथ)

# बेस्ट डेब्यू डायरेक्टर - अमर कौशिक (स्त्री )

# बेस्ट प्लेबैक (पुरुष) - अरिजीत सिंह (राज़ी)

# सर्वश्रेष्ठ गीतकार – गुलज़ार (राज़ी)

# बेस्ट प्लेबैक (महिला) - श्रेया घोषाल

# बेस्ट बैकग्राउड स्कोर - डेनियल जॉर्ज (अँधाधुन)

# बेस्ट सिनेमेटोग्राफी - पंकज कुमार (तुम्बाड)

# बेस्ट वीएफएक्स - रेड चिलीज़ एंटरटेनमेंट (ज़ीरो)

# बेस्ट कोरियोग्राफी - कृति महेश मिद्या और ज्योति तोमर (पद्मावत)

# बेस्ट कॉस्टयूम - शीतल शर्मा (मंटो)

# बेस्ट प्रोडक्शन डिज़ाइन - नितिन जिहानी चौधरी और राजेश यादव (तुम्बाड)

फिल्मफेयर अवार्ड्स के बारें में :-

फिल्मफेयर पुरस्कार समारोह भारतीय सिनेमा के इतिहास की सबसे पुरानी और प्रमुख घटनाओं में से एक रही है। इसकी शुरुआत सबसे पहले 1954 में हुई जब राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार की भी स्थापना हुई थी। पुरस्कार जनता के मत एवं ज्यूरी के सदस्यों के मत दोनों के आधार पर हर साल दिया जाता है। पाठकों को बता दे की 21 मार्च 1954 को होने वाले पहले पुरस्कार समारोह में सिर्फ पाँच पुरस्कार रखे गये थे जिसमें दो बीघा ज़मीन को सर्वश्रेष्ठ फ़िल्म, सर्वश्रेष्ठ निर्देशन के लिए बिमल राय (दो बीघा ज़मीन), सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के लिए दिलीप कुमार (दाग), सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के लिए मीना कुमारी (बैजू बावरा), एवं इसी फिल्म में सर्वश्रेष्ठ संगीत के लिए नौशाद को सम्मानित किया गया था।

Provide Comments :




Related Posts :