Forgot password?    Sign UP
ओडिशा की कंधमाल हल्दी को GI टैग प्रदान किया गया

ओडिशा की कंधमाल हल्दी को GI टैग प्रदान किया गया





2019-04-02 : हाल ही में, ओडिशा की कंधमाल हल्दी को विशिष्ट भौगोलिक पहचान के लिए भौगोलिक संकेतक (जीआई) टैग प्रदान किया गया। कंधमाल की लगभग 15 प्रतिशत आबादी हल्दी की खेती से जुड़ी हुई है। जीआई टैग प्राप्त हो जाने से इसे विश्व बाजार में एक स्वतंत्र स्थान मिल जायेगा। इसके पंजीकरण हेतु कंधमाल अपेक्स स्पाइसेज असोसिएशन फॉर मार्केटिंग द्वारा प्रयास किया गया था। इसके पंजीकरण आवेदन को वस्तु भौगोलिक संकेतक (पंजीकरण एवं संरक्षण) अधिनियम की धारा 13 की उपधारा 1 के तहत मंजूरी दिया गया है।

कंधमाल हल्दी के बारे में :-

# कंधमाल हल्दी स्वास्थ्य के लिए काफी उपयोगी मानी जाती है।

# यह कंधमाल के जनजातीय लोगों की प्रमुख नकदी फसल है।

# इस हल्दी का उपयोग घरेलु के अतिरिक्त सौन्दर्य उत्पादों तथा औषधीय कार्यों के लिए भी किया जाता है।

# इस हल्दी की मुख्य खासियत यह है कि इसके उत्पादन में किसानों द्वारा किसी तरह के कीटनाशक का प्रयोग नहीं किया जाता है।

Provide Comments :





Related Posts :