Forgot password?    Sign UP
वैश्विक ऊर्जा संक्रमण सूचकांक में भारत को मिला 74वां स्थान

वैश्विक ऊर्जा संक्रमण सूचकांक में भारत को मिला 74वां स्थान





2020-05-15 : हाल ही में, विश्व आर्थिक मंच (WEF) ने यह घोषणा की है कि भारत ने दो स्थान की प्रगति की हैं और वैश्विक ऊर्जा संक्रमण सूचकांक में 74वें स्थान पर आ गया है। विश्व आर्थिक मंच ने इस 13 मई, 2020 को वार्षिक रैंकिंग जारी की है। भारत ने अपनी बेहतर रैंकिंग के साथ, आर्थिक सुरक्षा, आर्थिक विकास और पर्यावरण स्थिरता के प्रमुख मापदंडों में सुधार दिखाया है। पाठकों को बता दे की विश्व आर्थिक मंच जिनेवा में स्थित एक अंतर्राष्ट्रीय संगठन है जो सार्वजनिक और निजी सहयोग के लिए काम करता है।

विश्व आर्थिक मंच ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि स्वच्छ ऊर्जा के लिए परिवर्तन हेतु तत्परता को मापने के लिए हमारे अध्ययन के अनुसार, 115 अर्थव्यवस्थाओं में से 94 देशों ने वर्ष 2015 के बाद से प्रगति दिखाई है। लेकिन इस प्रगति के बावजूद, पर्यावरणीय स्थिरता अभी भी पीछे है। स्वीडन ने लगातार तीसरे वर्ष ऊर्जा संक्रमण सूचकांक (ETI) पर शीर्ष स्थान हासिल किया है और शीर्ष तीन में इसके बाद फिनलैंड और स्विट्जरलैंड शामिल हैं।

वहीँ मांग के उभरते केंद्रों के रूप में, भारत ने 74वें और चीन ने 78वें स्थान पर अपने माहौल को सुधारने के लिए सक्षम प्रयास किए हैं। यह सुधार इन दोनों देशों में उपभोक्ता सहयोग, राजनीतिक प्रतिबद्धता, नवाचार और बेहतर बुनियादी ढांचे की वजह से हुआ है। विशेष रूप से चीन में, वायु प्रदूषण की समस्या के कारण विद्युतीकरण वाले वाहनों का इस्तेमाल, नियंत्रित उत्सर्जन, तटवर्ती पवन संयंत्रों और सौर फोटोवोल्टिक (पीवी) के लिए दुनिया की सबसे बड़ी क्षमता से संबंधित नीतियां लागू हुई हैं।

Provide Comments :





Related Posts :