Forgot password?    Sign UP
टाटा संस के सेवानिवृत्त अध्यक्ष रतन टाटा भारतीय रेल के नवाचार परिषद  कायाकल्प  के अध्यक्ष नियुक्त |

टाटा संस के सेवानिवृत्त अध्यक्ष रतन टाटा भारतीय रेल के नवाचार परिषद कायाकल्प के अध्यक्ष नियुक्त |





0000-00-00 : भारत सरकार के रेल मंत्री सुरेश प्रभाकर प्रभु ने भारतीय रेल के नवाचार परिषद कायाकल्‍प परिषद का 19 मार्च 2015 का गठन किया | टाटा संस के सेवानिवृत्त अध्यक्ष एवं उद्योगपति रतन टाटा को भारतीय रेल के नवाचार परिषद ‘कायाकल्प’ का अध्यक्ष नियुक्त किया गया | कायाकल्प परिषद का उद्देश्‍य : इस परिषद का उद्देश्‍य भारतीय रेलवे में सुधार, व्‍यापक बदलाव और उसकी बेहतरी के लिए अनूठे तरीके एवं प्रक्रियाएं सुझाना एवं भारतीय रेलवे में आधुनिकीकरण करने के लिये सुझाव देना है | कायाकल्प परिषद् का गठन : यह परिषद एक स्‍थायी निकाय होगी | अध्यक्ष के आलावा इस परिषद में अखिल भारतीय रेलकर्मी संघ (ऑल इंडिया रेलवेमेंस फेडरेशन, एआईआरएफ) के महासचिव गोपाल मिश्रा और राष्‍ट्रीय भारतीय रेलकर्मी संघ (नेशनल फेडरेशन ऑफ इंडियन रेलवे, एनएफआईआर) के महासचिव डॉ. एम. राघावैय्या भी आंरभ में इसके सदस्‍य के तौर पर रहेंगे | एआईआरएफ और एनएफआईआर रेल कर्मचारियों का प्रतिनिधित्‍व करने वाले दो मान्‍यता प्राप्‍त संगठन हैं | परिषद के अन्‍य सदस्‍यों की घोषणा की जानी है | कायाकल्प परिषद् का कार्य : कायाकल्प परिषद सभी हितधारकों एवं अन्‍य इच्‍छुक पक्षों से सलाह-मशविरा करेगी : यह रेलवे में निवेश आकर्षित करने के लिए आवश्यक बदलावों की रूपरेखा तैयार करेगी और इसे एक नया चेहरा प्रदान करने के लिए सुझाव देगी : विदित हो कि इस परिषद के गठन के संदर्भ में रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने 26 फरवरी 2015 को संसद में रेल बजट 2015-16 पेश करते हुए घोषणा की थी | उन्होंने कहा था, हर गतिशील संगठन को अनूठे उपाय करके अपने कामकाज के तौर-तरीकों में व्‍यापक बदलाव लाने चाहिए | नवाचार, तकनीकी विकास एवं विनिर्माण के लिए माननीय प्रधानमंत्री के विजन को ध्‍यान में रखते हुए भारतीय रेलवे कायाकल्‍प के नाम से एक नवाचार परिषद के गठन का इरादा व्‍यक्‍त करती है, ताकि उसके कामकाज में नए सिरे से बदलाव आए और रेलवे में अनूठे उपाय अपनाने की भावना पैदा हो |

Provide Comments :





Related Posts :