Forgot password?    Sign UP
मराठी लोक गायक साहिर कृष्णराव सेबल का निधन |

मराठी लोक गायक साहिर कृष्णराव सेबल का निधन |





0000-00-00 : मराठी लोक गायक साहिर कृष्णराव सेबल का मुंबई, महाराष्ट्र में 20 मार्च 2015 को 92 वर्ष की आयु में निधन हो गया | साहिर सेबल एक निपुण गायक, लेखक, नाटककार, कलाकार, लोकनाट्य निर्माता-निर्देशक थे | उन्होंने महाराष्ट्र में लोक गायन और थिएटर परंपरा को आगे बढ़ाने में योगदान दिया और और अपने गीतों से महाराष्ट्र की संस्कृति को समृद्ध बनाया | साहिर कृष्णराव सेबल ने साहिर शंकरराव के मार्गदर्शन में प्रशिक्षण प्राप्त किया और लोक नाट्य के पारंपरिक रूप में परिवर्तन किया | उन्होंने मुक्ता नाट्य नामक एक नवीन नाटकीय विधा की शुरुआत की | साहिर कृष्णराव सेबल ने लोक गायन के अलावा भारत छोड़ो आंदोलन, गोवा मुक्ति संघर्ष और हैदराबाद मुक्ति और संयुक्त महाराष्ट्र आंदोलन जैसे विभिन्न स्वतंत्रता आंदोलनों में सक्रिय रूप से भाग लिया | उन्होंने सामाजिक समस्याओं जैसे शराब विरोधी अभियान, लोक कलाकारों की वित्तीय कल्याण और लोक संगीत के कायाकल्प के लिए लड़ाई लड़ी थी | साहिर सेबल का जन्म महाराष्ट्र के सतारा जिले में वर्ष 1923 में हुआ था | साहिर सेबल को वर्ष 1990 में मुंबई में आयोजित अखिल भारतीय मराठी नाट्य सम्मेलन का और अखिल भारतीय मराठी साहिर परिषद् का अध्यक्ष बनाया | साल 1984 में साहिर सेबल को उनकी उपलब्धियों के लिए संगीत नाटक अकादमी पुरस्कार से और साल 1990 में महाराष्ट्र सरकार द्वारा गौरव पुरस्कार से सम्मानित किया गया | केंद्र सरकार ने साल 1998 में साहिर सेबल को पद्म श्री से सम्मानित किया |

Provide Comments :




Related Posts :